एक लड़की के लिए एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए दो भाई, नतीजा एक ने गंवाई जान, दूसरा पहुंचा जेल और प्रेमिका का हुआ यह हाल

एक लड़की के लिए एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए दो भाई, नतीजा एक ने गंवाई जान, दूसरा पहुंचा जेल और प्रेमिका का हुआ यह हाल

MUZAFFARPUR : दो दिनों पहले सकरा थाना क्षेत्र में मिले एक व्यक्ति सुजीत कुमार के सड़े गले लाश वाले मामले में तब नया मोड़ आ गया जब पता चला कि मुजफ्फरपुर के सकरा के मारकन निवासी सुजीत की निर्मम हत्या प्रेम प्रसंग में हुई थी। वह प्रेमी-प्रेमिका के बीच मे आ रहा था। इसको लेकर उसके चचेरे भाई व उसकी प्रेमिका ने मिलकर सुजीत की निर्मम हत्या कर दी। मामले में सकरा पुलिस ने जांच के क्रम में मामला उजागर कर दिया है।  साथ ही हत्या के दोनों आरोपितों प्रेमी व प्रेमिका को भी गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को संबंधित कोर्ट में पेश किया गया। साथ ही सुजीत कुमार को मोबाइल व हत्या में इस्तेमाल किया गया चाकू को साक्ष्य के तौर पर कोर्ट में पेश किया। जहां से कोर्ट ने सुनवाई के बाद दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

 इधर, सकरा थानेदार सरोज कुमार ने बताया कि बीते 11 सितंबर से मारकन निवासी जगेश्वर राम का बेटा 27 वर्षीय बेटा सुजीत कुमार गायब था। इसमें गोपीनाथपुर के मो़ अरमान को आरोपित किया था। जांच के क्रम में तकनीकी सहायता एवं गुप्तचर के आधार पर मामला प्रेम-प्रसंग का पाया गया। इसमें सुजित कुमार का चचेरा भाई संजय राम एवं उसकी प्रेमिका नरगीस खातुन की संलिप्तता हत्या में पाया गया । दोनों को छापेमारी कर पकड़ा गया। 

पूछताछ में प्रेमी-प्रेमिका ने खोला हत्या का राज

बताया गया कि गिरफ्तारी के बाद दोनों से पूछताछ की गई। पूछताछ में दोनों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने मिलकर सुजीत कुमार की हत्या एसडीएम एकेडमी गोपीनायपुर के बाउन्ड्री के अन्दर टेबल के लकड़ी, फट्ठा और चाकू से हमला कर 11 सितंबर की रात की कर दी। इसके बाद शव को टूकड़ा कर फेंक दिया। गिरफ्तार संजय कुमार के निशानदेही पर शव को भी बरामद किया गया। साथ ही सुजीत को मोबाइल मोबाइल एवं घटना में प्रयुक्त चाकू को नरगीस खातून के निशानदेही पर बरामद किया गया।

निजी स्कूल में फेंक मिला था सुजीत का शव 

बता दें कि, सकरा थाने के मारकन गांव के सुजीत कुमार नामक युवक की हत्या कर शव को टुकड़े-टुकड़े कर बगल के गोपिनाथपुर गांव में बंद निजी स्कूल में फेंक दिया। उसके गुप्तांग भी काट डाले ताकि मामले में पुलिस की शक किसी और पर जाए  ।शुक्रवार को दुर्गंध आने पर जागेश्वर राम के पुत्र सुजीत कुमार की सड़ी गली लाश मिली । वह छह दिनों से गायब था। घटना के बाद वहां काफी तनाव उत्पन्न हो गया था। इसकी सूचना पर जिला के 10 थाने व ओपी की पुलिस मौके पर पहुंची थी। दूसरी ओर सकरा थाने की पुलिस ने एक आरोपित को शुक्रवार की रात ही गिरफ्तार कर लिया था।

Find Us on Facebook

Trending News