UP NEWS: किसान महापंचायत के समर्थन में आई मायावती, ट्वीट कर प्रदेश सहित केंद्र सरकार को याद दिलाया इतिहास

UP NEWS: किसान महापंचायत के समर्थन में आई मायावती, ट्वीट कर प्रदेश सहित केंद्र सरकार को याद दिलाया इतिहास

LUCKNOW: रविवार को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में किसान महापंचायत का आयोजन किया गया। यह आयोजन जिले के जीआईसी कॉलेज के विशाल मैदान में किया गया, जहां कई राज्यों से आए किसानों ने जमघट लगाई। मुद्दा वही था, जिसे सालभर से किसान उठाते आ रहे हैं। 

किसान महापंचायत पूरी होने के बाद से ही लगातार इसके समर्थन और विरोध में ट्वीट और बयानबाजी जारी है। अब इसके समर्थन में एक और नाम शामिल हो गया है, और वह नाम है बीएसपी सुप्रीमो मायावती का। उन्होनें सोमवार को किसान महापंचायत को लेकर 2 ट्वीट किए। वहीं एक तीर से कई निशाने लगाते हुए उन्होनें केंद्र सरकार, राज्य सरकार सहित सपा पर भी हमला बोला।

अपने पहले ट्वीट में उन्होनें लिखा कि, ‘यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में कल हुई किसानों की जबरदस्त महापंचायत में हिन्दू-मुस्लिम साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए भी प्रयास अति-सराहनीय। इससे निश्चय ही सन 2013 में सपा सरकार में हुए भीषण दंगों के गहरे जख्मों को भरने में थोड़ी मदद मिलेगी किन्तु यह बहुतों को असहज भी करेगी।’ वहीं दूसरे ट्वीट को राजनीतिक रंग देते हुए उन्होनें लिखा कि, ‘किसान देश की शान हैं तथा हिन्दू-मुस्लिम भाईचारा के लिए मंच से साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए लगाए गए नारों से भाजपा की नफरत से बोयी हुई उनकी राजनीतिक जमीन खिसकती हुई दिखने लगी है तथा मुजफ्फरनगर ने कांग्रेस व सपा के दंगा-युक्त शासन की भी याद लोगों के मन में ताजा कर दी है।’

उनके ट्वीट से अंदाजा लगाया जा सकता है कि एक तरफ जहां उन्होनें किसान महापंचायत को पूरा समर्थन दिया है। वहीं दूसरी तरफ हिंदू-मुस्लिम एकता की भी बात की है। इसके बाद साल 2013 की सपा सरकार में हुए दंगो का जिक्र करते हुए कहा कि इससे दंगा पीड़ितों के जख्म भरने में मदद मिलेगी, हालांकि इससे कई लोग असहज भी हो जाएंगे। वहीं भाजपा को नफरत पैदा करने वाला बताते हुए कहा कि उनकी राजनीतिक जमीन खिसक रही है। 

Find Us on Facebook

Trending News