तेजस्वी को उपेंद्र कुशवाहा ने दी नसीहत - पहले अपने पिता से पूछें वह कैसे करते थे बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा

तेजस्वी को उपेंद्र कुशवाहा ने दी नसीहत - पहले अपने पिता से पूछें वह कैसे करते थे बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा

PATNA : बिहार में आधे से ज्यादा जिलों में आई बाढ़ को लेकर जमकर राजनीति की जा रही है। विपक्ष लगातार सीएम नीतीश कुमार और सरकार के कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रहा है। यहां तक कि सीएम नीतीश कुमार के हवाई सर्वेक्षण को लेकर विपक्ष नाखुश है और इसे दिखावा करार दिया जा रहा है। अब सरकार की तरफ से पहली बार विपक्ष के इस हमले का करारा जवाब दिया गया है। जदयू के संसदीय समिति के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव पर हमला करते हुए कहा है कि हमारे मुख्यमंत्री के काम पर सवाल उठाने से पहले उन्हें अपने पिता से जाकर पूछना चाहिए कि वह बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किस तरह से दौरा करते थे। वह बताएंगे कि बाढ़ प्रभावितों की किस तरह सहायता पहुंचाई जाती थी।

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा मुख्यमंत्री लगातार बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा कर रहे हैं, प्रभावित लोगों से मिल रहे हैं। जरुरी व्यवस्था की खुद निगरानी कर रहे हैं। उपेंद्र कुशवाहा ने यह प्राकृतिक आपदा है, जिस पर विपक्ष सिर्फ राजनीति कर रही है। उपेंद्र कुशवाहा अपनी बातों से कहीं न कहीं तेजस्वी की समझ पर सवाल खड़े कर दिए हैं। 


गलतफहमी में जी रहे हैं कुछ लोग

उपेंद्र कुशवाहा ने पार्टी में चल रहे विवाद को लेकर भी खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि पार्टी के कुछ नेता गलतफहमी में जी रहे हैं। जिसे दूर करने की आवश्यकता है। इस दौरान उपेंद्र कुशवाहा ने कहा हमें यह मानने में गुरेज नहीं है कि विधानसभा चुनाव में पार्टी की स्थिति कमजोर हुई है। जिसे फिर से मजबूत करने की कोशिश की जा रही है। पार्टी में ऊपरी स्तर पर कोई विवाद नहीं है। आरसीपी सिंह केंद्रीय मंत्री बनकर पार्टी को मजबूती दे रहे हैं, ललन सिंह अध्यक्ष के रूप में काम कर रहे हैं. वहीं मैं भी पार्टी को मजबूत करने के लिए काम कर रहा हूं। पार्टी में फूट की बात पूरी तरह से बेमानी है।

Find Us on Facebook

Trending News