तेजस्वी व BJP में हुई बड़ी डील ! केंद्र सरकार से लाभ लेना चाहता है RJD नेतृत्व...उपेन्द्र कुशवाहा का सबसे बड़ा खुलासा

तेजस्वी व BJP में हुई बड़ी डील ! केंद्र सरकार से लाभ लेना चाहता है RJD नेतृत्व...उपेन्द्र कुशवाहा का सबसे बड़ा खुलासा

PATNA:  जेडीयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने आज यह कहकर सनसनी फैला दी की लालू-तेजस्वी का भाजपा से डील हो गई। केंद्र सरकार से फायदा लेने को लेकर राजद का शीर्ष नेतृत्व ने अंदर ही अंदर भाजपा से डील किया है ताकि कई कई केसों में फायदा मिल सके. तेजस्वी यादव को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा का यह सबसे बड़ा आरोप है।

कुशवाहा का तेजस्वी पर सबसे बड़ा हमला 

उपेन्द्र कुशवाहा ने आज कहा कि राजद नेतृत्व सीधे तौर पर भारतीय जनता पार्टी को फायदा पहुंचा रहा है. रामचरितमानस पर बात करने का मतलब है कि बीजेपी के पिच पर खेलना, उनके एजेंडे पर काम करना. ऐसे विषयों पर जब चर्चा होगी तो सबको मालूम है कि बीजेपी को फायदा होगा. बीजेपी को फायदा पहुंचाने के मकसद से यो लोग (राजद) काम कर रहे हैं. तेजस्वी यादव ने तो खुद कहा है कि उनके विधायक सुधाकर सिंह का बयान बीजेपी के पॉलिसी के अनुरूप है. उन्होंने स्वयं कहा और जब उनको भी मालूम है और सच भी यही है तो सुधाकर सिंह और शिक्षा मंत्री पर राष्ट्रीय जनता दल को कार्रवाई करनी चाहिए .वे लोग कार्रवाई नहीं कर रहे हैं यह दुखद बात है.

जेडीयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि यह कोई शिक्षा मंत्री या सुधाकर सिंह का मामला नहीं है. यह राष्ट्रीय जनता दल के शीर्ष नेतृत्व का मामला है. सब लोगों को मालूम है कि बीजेपी को फायदा पहुंचाने का काम राजद के लोग लगातार कर रहे हैं . यह जानते हुए भी कार्रवाई नहीं कर रहे, चुप हैं.यह सीधे तौर पर गलत है. लोगों के मन में जो आशंका है कि किसी न किसी रूप में भारतीय जनता पार्टी के दबाव में राष्ट्रीय जनता दल के लोग काम कर रहे हैं. कुछ और मामलों में राजद के शीर्ष नेतृत्व(लालू-तेजस्वी) को केंद्र सरकार से मदद मिल जाए, ऐसी आशंकाओं को बल मिल रहा है. ऐसे में जितनी जल्दी हो सके कार्रवाई हो, ताकि ऐसी आशंकाएं खारिज हो सके. इतना कुछ होने के बाद भी बीजेपी को मदद पहुंचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है, तब तो लोगों के मन में जो आशंका है कि राजद का नेतृत्व यह चाहता है कि केंद्र सरकार से उनको कई मामलों में मदद मिले. उसके एवज में बीजेपी के लोग फायदा पहुंचा रहे हैं. ऐसी आशंकाओं को निराधार करने की जरूरत है. 

उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि हमारे नेता नीतीश कुमार को राजद के लोग गाली दे रहे हैं. राष्ट्रीय जनता दल इस पर मौन है. इसको लोग किस रूप में लेंगे...। ऐसी स्थिति में कैसे बर्दाश्त किया जा सकता है?  भारतीय जनता पार्टी का रामचरितमानस पर क्या रुख है... हमारी पार्टी ने स्पष्ट कहा है कि उनके बयानों(शिक्षा मंत्री) से हम इत्तेफाक नहीं रखते हैं. ऐसे चलता है क्या.... कार्रवाई करनी चाहिए.

Find Us on Facebook

Trending News