तिरंगा यात्रा के दौरान हुए पथराव के बाद बवाल, शहर में धारा 144 लागू

तिरंगा यात्रा के दौरान हुए पथराव के बाद बवाल, शहर में धारा 144 लागू

NEWS4NATION DESK : सीएएव एनआरसी के समर्थन में रविवार को झारखंड के कोडरमा में तिरंगा यात्रा के दौरान हुए पथराव के बाद माहौल बिगड़ गया है। शहर में एहतियातन धारा 144 लागू कर दी गई है। 

गिरिडीह नगर निगम क्षेत्र में कई तरह की रोक लग गयी है। अब पांच से अधिक व्यक्तियों के एक साथ एकत्रित होने व लाठी, भाला तथा पारम्परिक अस्त्र-शस्त्र के साथ एकत्रित होने पर रोक है। बिना अनुमति के जुलूस, धरना, प्रदर्शन, सड़क जाम करने पर भी रोक लग गयी है। किसी सक्षम पदाधिकारी के अनुमति के बिना ध्वनि विस्तारक यंत्र का भी उपयोग पर प्रतिबंध लग गया है। भडकाउ एवं आपत्ति जनक कट हाउट, होर्डिंग, बैनर, झंडा आदि के प्रदर्शन पर भी रोक लग गयी है। किसी भी धर्म, जाति, व्यक्ति विशेष पर धार्मिक टिप्पणी एवं धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले पोस्ट पर प्रतिबंध लगाया गया है।

बता दें रविवार को गिरडीह में सीएए के समर्थन में झंडा मैदान से तिरंगा यात्रा निकाली गई थी। तिरंगा यात्रा की वापसी में पथराव हुआ। जिसके बाद चंद मिनटों में शहर का माहौल बिगड़ गया। यह पथराव मौलाना आजाद चौक से कालबाड़ी चौक के बीच दोपहर करीब एक बजे हुआ।

10 से 15 मिनट के हुए पथराव में भगदड़ मच गई और दुकानें धड़ाधड़ बंद होने लगी। करीब डेढ़ बजे डीसी राहुल कुमार सिन्हा और एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभाला लिया और स्थिति को काबू में किया। कालीबाड़ी चौक पर तिरंगा यात्रा में शामिल लोगों ने बवाल के बाद राष्ट्रगान गाया जिसका साथ एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने भी दिया।

पुलिस कर्मी समेत पांच लोग हुए घायल

पथराव, लाठीचार्ज व भगदड़ में पुलिसकर्मी शंभू कुमार समेत पांच लोग घायल हुए हैं। शंभू टाइगर मोबाइल के जवान हैं। इसके अलावा घायलों में पानी टंकी के पास मुर्गा बेचनेवालों में मो. शाहनवाज अहमद स्टेशन रोड, मछली मोहल्ला के मो. सैफी और अभाविप के रोशन सिंह व जयकिशोर भी घायल हुए हैं। इन सबका सदर अस्पताल में इलाज कराया गया। मो. शाहनवाज को ज्यादा चोट लगी है। भगदड़ व पथराव में कई बाइक, स्कूटर और कार भी क्षतिग्रस्त हुई है।


Find Us on Facebook

Trending News