UPSC TOPPERS: दूसरे प्रयास में निरंजन ने सिविल सेवा परीक्षा में किया टॉप, 728 से उछलकर 535वां मुकाम किया हासिल

UPSC TOPPERS: दूसरे प्रयास में निरंजन ने सिविल सेवा परीक्षा में किया टॉप, 728 से उछलकर 535वां मुकाम किया हासिल

NAWADA: नवादा जिले के पकरीबरावां के रहने वाले निरजंन ने आईपीएस बनकर माता-पिता के साथ-साथ जिले का भी नाम को रौशन किया है। यह कोई और नही बल्कि प्रखंड मुख्यायलय बाजार में छोटी सी दुकान में खैनी का व्यवसाय करने अरबिन्द कुमार ने अपने दूसरे नंबर के पुत्र निरंजन कुमार को पहले झारखंड में कोल इंडिया में उसके बाद 2017 में यूपीएससी में 728वां रैंक लाकर दिल्ली में इनकम टैक्स में रेवन्यू पदाधिकारी बनकर जिले का नाम रौशन किया। 4 वर्षो के अथक मेहनत और प्रयास में वह पुनः 535वां रैंक लाकर आईपीएस बन गया।

कहां हुई प्रारंभिक शिक्षा

निरंजन की प्रारंभिक शिक्षा प्रखंड मुख्यायलय निराला कोचिंग संस्थान में हुई। उसके बाद वह छठे वर्ग में पकरीबरावां के ही रेवार गांव स्थित नवोदय विद्यालय में हुई। तब से वह आगे बढ़ता ही गया फिर वह कभी भी पीछे मुड़कर नही देखा। 

क्या कहते हैं माता पिता

मैन अपनी सभी खुशी को त्याग कर बेटे को इस मुकाम तक पंहुचाया है। यह मेरी त्याग और पुत्र का मेहनत ही इस सफलता का परिणाम है। मैं आजतक अपने बेटे को महंगे कॉलेज या कोचिंग में नही पढ़ाया है। जिसका परिणाम आज सामने है।

Find Us on Facebook

Trending News