एनसीसी कैडेट के लिए रिजेंट सिनेमा में हुआ फिल्‍म ‘उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक’ का स्‍पेशल स्‍क्रीनिंग

एनसीसी कैडेट के लिए रिजेंट सिनेमा में हुआ फिल्‍म ‘उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक’ का स्‍पेशल स्‍क्रीनिंग

पटना: बिहार के सबसे पुराने थियेटर रिजेंट सिनेमा की ओर से एक अभूतपूर्व पहल के तहत राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडेट के लिए अभी हाल ही में रिलीज हिंदी फिल्‍म ‘उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक’ का स्‍पेशल स्‍क्रीनिंग किया गया। इसमें करीब 300 से अधिक एनसीसी के कैडेट ने भारतीय सैन्‍य बलों के शौर्य गाथा पर आधारित फिल्‍म ‘उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक’ देखा। इस दौरान एनसीसी के वरीय अधिकारी नायक सूबेदार शमशेर बहादुर और बीएचएम एन पी सिंह भी मौजूद रहे। यह अपने आप में एक अभूतपूर्व पहल था, जब किसी थियेटर भविष्‍य में सैन्‍य बलों में जाने के लिए तैयार हो रहे एनसीसी कैडेटस के लिए यह आयोजन किया।

इस बारे में थियेटर के ओनर सुमन कुमार सिन्‍हा ने कहा कि ‘उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक’ हमारे वीर सैनिकों की शौर्य गाथा है। जब हम घरों में सोते हैं, तब भी भारत मां के वीर सपूत दुश्‍मनों से सरहद की रक्षा करते हैं। यह फिल्‍म उन वीरों की कहानी है, जिन्‍होंने हाल ही में सर्जिकल स्‍ट्राइक कर दुश्‍मनों के दांत खट्टे कर दिये थे। इसलिए हमें लगा कि आने वाले दिनों जो युवा सैन्‍य बलों में जायेंगे, उनके लिए हम एक स्‍क्रीनिंग तो कर ही सकती हैं। ताकि वे अपनी बाहदुरी की विरासत को जानें और दुगने जोश के साथ भारतीय सेना को मजबूती दे। इसके लिए हमने एनसीसी 11 बिहार ग्रुप हेडक्‍वार्टर के लिए यह स्‍क्रीनिंग की।

वहीं, रिजेंट सिनेमा के आईटी इंचार्ज संजीत  पांडेय  ने बताया कि एनसीसी कैडेट के लिए ‘उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक’ का स्‍पेशल स्‍क्रीनिंग हमारे लिए बेहद खास रहा है। रिजेंट सिनेमा अक्‍सर ऐसे आयोजनों को करते रहता है, ताकि सिनेमा की वजह से समाज में बदलाव की अपनी भूमिका का निवर्हन कर सकें। इसी क्रम ‘उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक’ का स्‍क्रीनिंग हुआ। उन्‍होंने कहा कि रिजेंट सिनेमा बिहार का सबसे पुराना थियेटर है, जो कई ब्‍लॉक बस्‍टर फिल्‍मों का गवाह रहा है

Find Us on Facebook

Trending News