वार्ड काउंसलर ने कर लिया पुश्तैनी जमीन पर कब्जा, अब न्याय के लिए भटक रहा है परिवार

वार्ड काउंसलर ने कर लिया पुश्तैनी जमीन पर कब्जा, अब न्याय के लिए भटक रहा है परिवार

भागलपुर। विश्वविधालय थाना क्षेत्र नाथनगर अंचल के साहेबगंज मे मुहल्ले में मुस्लिम समुदाय के बीच एक पुश्तैनी जमीनी विवाद समस्या प्रकाश मे आया है। आरोप है कि यहां एक परिवार की जमीन पर इलाके के काउंसलर द्वारा जबरन कब्जा कर लिया गया है। इस दौरान परिवार का घर भी तोड़ दिया गया है। अब पीड़ित परिवार अपनी जमीन वापस पाने के लिए न्याय की गुहार लगा रहा है।

इस विवाद को लेकर कोलकत्ता में रहनेवाले खालिद इकबाल की है, जिन्होंने बताया कि उनके पिता मरहूम हिदायत अली द्वारा यह जमीन खरीदी गई थी, जिसके दस्तावेज भी हमारे पास उपलब्ध हैं, लेकिन हमारे बाहर रहने के फायदा उठाकर बहन ने गुपचुप तरीके से इलाके के काउंसलर कपल को बेच दिया। जब हमें इसकी जानकारी हुई तो अपनी जमीन लेने के लिए वापस आए। लेकिन काउंसलर ने यहां बने हमारे घर को भी तोड़ दिया। 

पुलिस से नहीं मिली सहायता

खालिद ने बताया कि जब हमने मामले की शिकायत पुलिस से की, तो हमें ही झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर थाने से भगा दिया गया। अब परिवार के लोगों का कहना है कि जब पुलिस से ही कोई सहायता नहीं मिली तो किसके पास मदद के लिए गुहार लगाएं।

पुलिस को समझनी होगी जिम्मेदारी

एक आशियाने को बनाने में पूरी जिंदगी गुजर जाती है। इस आशियाने पर जब किसी का कब्जा होता है, तो किस प्रकार की पीड़ा होती है, यह बात पुलिस को समझने की जरुरत है। लेकिन, गरीब असहाय लोगों का सहयोग तो दूर पुलिस विनम्र से बात करना भी मुनासिब नही समझते हैं, और तो और स्थानिय दबंग लोगों को ही पुलिस सहयोग कर बैठते हैं, वहीं गरीब असहाय लोग मजबूरन उपरी पदाधिकारी का दरबाजा खटखटाने को मजबूर कर देती है, बाबजूद गरीब लाचार लोगों को न्याय नहीं मिल पाता है।


Find Us on Facebook

Trending News