वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू : CM के सामने IGIMS के सफाई कर्मी रामबाबू को लगा पहला टीका

वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू :  CM के सामने IGIMS के सफाई कर्मी रामबाबू को लगा पहला टीका

डेस्क...  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की उपस्थिति में आईजीआईएमएस में काेरोना का पहला टीका लगाया गया। राज्य का पहला टीका आईजीआईएमएस के सफाईकर्मी रामबाबू और दूसरा टीका इसी अस्पताल के एंबुलेंस चालक अमित कुमार को दिया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी मौजूद रहे। बता दें कि बिहार में 4 लाख 64 हजार 160 लोगों का टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है। कुल 300 सेंटरों पर टीकाकरण होगा, जिनमें 259 सेंटर सरकारी जबकि 41 निजी सेंटर हैं। निबंधित व्यक्ति को टीका के दो डोज दिए जाएंगे।

गौरतलब है कि राज्य में पहले दिन 30 हजार रजिस्टर्ड लोगों को टीका दिया जाएगा।  टीकाकरण कार्य सबसे निचले स्तर पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और ऊपरी स्तर पर मेडिकल कॉलेज अस्पतालों और पटना एम्स में होगा।   

वैक्सीन लेने वाले सफाईकर्मी को फिलहाल अभी आधे घंटे तक के लिए रोका गया है, ताकि किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी की आशंका होने पर रोककर जांच की जाएगी। इसके बाद ही उन्हें घर जाने को कहा जाएगा। इसके लिए संपूर्ण वैक्सीनेसन सेंटर बनाया गया है। वहीं, टीका लगने के बाद और वैक्सीनेशन सेंटर से चले जाने के बाद किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट या कोई परेशानी होगी तो उसे तत्काल लाभार्थी डॉक्टर को सूचना देंगे।  जानकारी के मुताबिक कोरोना टीकाकरण के लिए बनाई गई वैक्सीनेशन टीम में पांच लोग थे। इसमें एक स्टाफ नर्स, एक डॉक्टर, पारामेडिकल स्टाफ, एक डाटा ऑपरेटर, एक गार्ड शामिल थे। 

बता दें कि भारत बायोटक की कोवैक्सीन का डोज पीएमसीएच, एम्स और एनएमसीएच के स्वास्थ्य कर्मियों को दी जाएगी। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। प्रत्येक अस्पताल में पहले दिन 100-100 लाभार्थियों कोवैक्सीन का डोज दिया जाएगा। जिन लाभार्थियों को पहला डोज कोवैक्सीन का दिया गया है, उन्हें दूसरा डोज 28 दिनों के बाद दी जाएगी। एक कोवैक्सीन वाइल में 20 डोज हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News