वात्सला सिंह ने अपने आईएएस अधिकारी पति धर्मेंद्र कुमार पर लगाया प्रताड़ना का आरोप, सीएम नीतीश से लगाई न्याय की गुहार

वात्सला सिंह ने अपने आईएएस अधिकारी पति धर्मेंद्र कुमार पर लगाया प्रताड़ना का आरोप, सीएम नीतीश से लगाई न्याय की गुहार

PATNA : IAS अधिकारी धर्मेंद्र कुमार की पत्नी वत्सला सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को पत्र लिख कर न्याय की मांग की है। वत्सला सिंह ने अपने पत्र में अपने पति 2013 बैच के आईएएस अधिकारी धर्मेंद्र कुमार पर दहेज के लिए मानसिक प्रताड़ना देने और शादी के बाद भी एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का आरोप लगाया है। वत्सला सिंह ने अपने पत्र में कहा है कि उनके पति का आचरण ऑल इंडिया सर्विस कंडक्ट रुल के खिलाफ है। उन्होंने अपने आईएएस पति पर कार्रवाई की मांग की है। अपने पत्र में वात्सला सिंह ने सरकार से मांग की है कि वो धर्मेंद्र कुमार के खिलाफ एक उच्च स्तरीय जांच कराये, जिससे बिहार की बेटी को न्याय मिल सके।

वत्सला सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में दहेज बंदी को लेकर सख्त कानून बनाया है। सरकार की ओर से जागरुकता अभियान भी चलाया जा रहा है। लेकिन बिहार की एक बेटी एक आईएएस अधिकारी से प्रताड़ित हो रही है और उसे न्याय नहीं मिल पा रहा है।

अपने पत्र में वात्सला सिंह ने विस्तार से उन वाकयों का जिक्र किया जब उसे दहेज को लेकर किस तरह प्रताड़ित किया गया। उन्होंने कहा कि मेरे पिता ने शादी में करोड़ों रुपये खर्च किए। लड़के के पिता और परिवार की सारी मांगे पूरी की। लेकिन समय के साथ उनकी मांगे बढ़ती गई। उसके बाद भी मेरे पिता ने उनकी मांगे पूरी की। वात्सला सिंह ने कहा कि शादी में मेरे पापा ने 30 लाख की फॉर्च्यूनर गाड़ी भी दी गई थी, जो अभी भी ससुराल वालों के पास है।

दहेज के लिए प्रताड़ना का आरोप

वात्सला सिंह ने आरोप लगाया है कि आईएएस अधिकारी धर्मेंद्र सिंह ने सिर्फ पैसे के लिए मुझसे शादी की थी, साथ रखने का उनका कभी से इरादा नहीं था। इसी कारण उन्होंने  पटना फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी डाल दी।

वत्सला ने कहा कि उसकी शादी 11 मार्च 2015 को 2013 बैच के आइएएस अधिकारी धर्मेंद्र कुमार से हुई थी। शादी के तुरंत बाद पति का व्यवहार बदल गया। पिता विनय सिंह ने मुझे तोहफे में बोरिंग रोड स्थित एक मकान दिया था, जिसे पति और ससुराल वाले अपने नाम पर कराने की जिद कर रहे थे। मैंने वक्त मांगा तो मुझे प्रताडि़त करने लगे। उन्होंने मुझे खुद से दूर कर दिया। परिवारवालों पर दबाव बनाने के बाद बगहा में पदस्थापना के दौरान वह मुझे अपने साथ लेकर गए, लेकिन कुछ दिन बाद बहाना बनाकर वापस भेज दिया। मधुबनी में भी पोस्टिंग के दौरान धर्मेंद्र कुमार ने मुझे अपने साथ नहीं रखा। जमुई डीएम आवास पर जब मै मिलने गई तो घंटो सड़क पर बैठने के बावजूद मुझसे नहीं मिले।

पति पर एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर का आरोप

वात्सला सिंह ने कहा कि हाल में मेरे घर पर एक लिफाफा आया। उसमें मेरे पति और उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के शाहाबाद की  महिला एसडीएम  के बीच की बातचीत के प्रमाण थे। उसकी सत्यता की जांच कराई, तब मुझे मालूम हुआ कि बगहा में मेरे साथ रहने के बावजूद पति देर रात तक क्यों बाहर रहते थे?

अपने पत्र में वात्सला सिंह ने मुख्यमंत्री से  इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने और न्याय की मांग की है।

Find Us on Facebook

Trending News