ठगी का शिकार : बीएसएफ के नाम पर स्कूटी देने के लिए युवक से लिए 13 हज़ार रुपये

ठगी का शिकार : बीएसएफ के नाम पर स्कूटी देने के लिए युवक से लिए 13 हज़ार रुपये

JAMSHEDPUR : गुमला जिले के कामडारा थाना हफूऔरा टोली का रहनेवाला समीर होरो नामक युवक आदित्यपुर थाना के आस- पास दो दिन से भटक रहा है. पूछने पर युवक ने बताया कि वह यहां DEO स्कूटी लेने आया है. थाना के पास स्कूटी लेने आने के सवाल पर युवक ने बताया कि OLX पर अजय यादव नाम के बीएसएफ जवान से उसकी DEO स्कूटी की डील 29 हजार में हुई थी. जिसमें उसने 13 हजार रुपए पेटीएम के माध्यम से जमा करा दिया है. युवक ने बताया कि अजय यादव ने गाड़ी की डिलीवरी के लिए आदित्यपुर थाना के पास शनिवार को बुलाया. 

युवक शनिवार को आदित्यपुर थाना पहुंचकर जब अजय यादव को उसके मोबाईल नम्बर 9982762992 और 9024618514 पर फोन किया तो एक घण्टा, दो घण्टा, कैम्प से निकलने की अनुमति नहीं मिलने वगैरह का बहाना बनाकर टालता रहा. फिर रविवार सुबह देने की बात कर फोन काट दिया. हताश परेशान युवक गम्हरिया अपने किसी दोस्त के घर चला गया. उसके बाद युवक फिर रविवार को थाना पहुंचा और काफी परेशान नजर आया. तब जाकर पीड़ित युवक ने पूरी आपबीती सुनाई. युवक ने बताया कि उसने पेटीएम के माध्यम से खाता संख्या 919672056437 IFSC CODE PYTM 0123456 पर 13 हजार रुपए जमा कराया है. 

कैसे हुआ ठगी का शिकार

युवक ने बताया कि OLX पर उसने एक DEO स्कूटी की डील पक्की की, जिसमें यह बताया गया कि स्कूटी सेना के जवान का है और स्कूटी मिलिट्री कैंटीन से खरीदा गया है. जवान उसे बेचना चाहता है. इसके बाद BSF के जवान ने अपना फोटोग्राफ, आधार कार्ड, परिचय पत्र, सेना में काम करनेवाले जवान की तस्वीरें, स्कूटी की तस्वीरें आदि भेजकर युवक को पूरा विश्वास में लिया. उसके बाद कैंटीन में बुकिंग के नाम पर पहले तीन हजार पेटीएम के माध्यम से फिर 10 हजार जमा करवाया. 

उसके बाद शनिवार को आदित्यपुर थाना के पास बाईक की डिलीवरी लेने और बाकी पैसे पेटीएम करने को कहा. युवक अड़ गया उसने कहा गाड़ी की डिलीवरी दीजिए और हाथोंहाथ पैसे लीजिए. इसके बाद युवक को कथित जवान गुमराह करता रहा और रविवार दोपहर 2 बजे तक न तो खुद सामने आया और न ही युवक को बाइक की डिलीवरी ही कराई. अंत में थककर युवक खुद को लूटा समझ वापस रांची लौट गया. हालांकि युवक ने आदित्यपुर थाना प्रभारी विजय सिंह को पूरे घटना की जानकारी दी है. आदित्यपुर थाना प्रभारी ने कामडारा थाने में ही शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी है. वैसे उन्होंने युवक को भरोसा दिलाया कि संबंधित थाना से अगर जांच का प्रतिवेदन उन्हें मिलता है तो वे जरूर मामले में गम्भीरता से जांच कर दोषी को खोजने का प्रयास करेंगे. 

जमशेदपुर से संतोष की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News