प्यार की जीत! घर के मंदिर में प्रेमी युगल में रचाई शादी, बच्चों की जिद के आगे झुका दोनों का परिवार

प्यार की जीत! घर के मंदिर में प्रेमी युगल में रचाई शादी, बच्चों की जिद के आगे झुका दोनों का परिवार

Lakhisarai :पीरीबाजार थानाध्यक्ष के पहल पर  सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं जनप्रतिनिधि की देखरेख व दोनों के परिजनों की उपस्थिति में प्रेमी युगल की शादी पीरी बाजार स्थित हनुमान मंदिर में संपन्न हुई। मिली जानकारी के अनुसार सूर्यगढ़ा प्रखंड के मुस्तफापुर गांव निवासी स्व. जगन्नाथ राम की पुत्री ज्योति कुमारी का प्रेम प्रसंग मदनपुर पंचायत के केशोपुर गांव निवासी सदन राम के पुत्र मिथिलेश कुमार से पिछले 4 वर्ष से चल रहा था। दोनों एक साथ जीने मरने की कसमें खा रहे थे। जब दोनों का प्रेम परवान चढ़ रहा था तो उसी वक्त लड़की के परिजनों को इसकी भनक लग गई।परिजनों ने लड़की पर बंदिश लगाना शुरू कर दिया।भला प्रेम को कौन सी बंदिश की दीवार रोक सकी है। लड़की सारी बंदिशों को तोड़कर शनिवार की रात्रि लगभग एक- दो बजे के आसपास ही अपने प्रेमी मिथिलेश कुमार के केशोपुर स्थित घर पर पहुंच गई।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  शाम को ही लड़की अपने घर से फरार हो गई थी।परिजनों को जैसे ही पता लगा की ज्योति घर पर नहीं है। तो  लड़की के परिजनों ने दर्जनों की संख्या में लड़का के घर की चक्कर लगाने लगे। उन लोगों ने लड़के के घर पर आकर गाली-गलौज की और धमकी दी।पूरी छानबीन के बाद भी लड़की का कुछ पता नहीं चला तो वे लोग अपने घर लौट गए।लेकिन इसी बीच लड़की पक्ष के एक दो लोग गांव के इधर उधर फैल कर मामले की तहकीकात करने में जुटे हुए थे।

ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लड़की रात्रि दो-3 बजे के आसपास अपने प्रेमी के घर पहुंची। लड़के ने अपने घर में स्थित पूजा रूम में लड़की से शादी रचा ली।सुबह सात बजे के आसपास भारी संख्या में मोटरसाइकिल पर सवार लड़की पक्ष के लोगों ने लड़के के घर पर धावा बोल दिया।गनीमत रही कि इस दौरान कोई हिंसक घटना नहीं घटी।लड़की वालों ने लड़की को खोजने की पूरी कोशिश की।स्थानीय लोग के अनुसार  लड़के ने बड़ी चालाकी दिखाते हुए लड़की को दूर स्थित किसी पड़ोसी के घर में छिपा दिया था।जिस कारण लड़की वाले लड़की को ढूंढने में असफल रहे।इसी बीच स्थानीय पीरी बाजार पुलिस को इसकी सूचना दी गई।मौके पर एस आई संजय कुमार के नेतृत्व में पहुंची पीरीबाजार पुलिस ने पूरी छानबीन की,लेकिन लड़की का कहीं पता नहीं चला।पीरीबाजार पुलिस लड़के के पिता एवं उसके भगिना को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गई ।फिर लगभग 1- दो घंटे बाद प्रेमी युगल अपने घर के मंदिर में शादी करने के बाद बाहर निकले। ग्रामीणों के द्वारा इसकी सूचना पुनः पीरी बाजार पुलिस को दी गई।पुनः संजय कुमार  के नेतृत्व में पहुंची पीरी बाजार पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर दोनों प्रेमी युगल को अपने कब्जे में लेते हुए पीरी बाजार थाना ले गई।जहां पर दोनों प्रेमियों के परिजनों को बुलाया गया और समझा-बुझाकर दोनों प्रेमी युगलों की शादी वहां मौजूद कई स्थानीय प्रतिनिधि की देखरेख में संपन्न कराई गई।

पीरी बाजार पुलिस द्वारा एक बांड बनाकर प्रेमी युगल के साथ-साथ लड़के एवं लड़की पक्ष से लगभग आधा दर्जन लोगों का हस्ताक्षर करवाया गया।मदनपुर पंचायत के मुखिया नंदन कुमार,सामाजिक कार्यकर्ता दिलीप चंद्रवंशी एवं अन्य गण्यमान्य लोगों द्वारा कोविड प्रोटोकॉल के तहत दोनों के हाथ को सैनिटाइज करवाया गया।उसके बाद मास्क लगाकर दोनों प्रेमी युगलों ने एक-दूसरे को जय माला पहनाया।शादी के बाद वहां उपस्थित लोगों ने दोनों को आशीर्वाद दिया। इसके बाद दुल्हन की विदाई की गई।

Find Us on Facebook

Trending News