नीतीश-तेजस्वी के विरोध की विजय सिन्हा को नहीं है परवाह, विधानसभा में करने जा रहे बड़ा काम

नीतीश-तेजस्वी के विरोध की विजय सिन्हा को नहीं है परवाह, विधानसभा में करने जा रहे बड़ा काम

पटना. विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने शनिवार को ऐलान किया कि वे 15 अगस्त को विधानसभा में झंडोत्तोलन करेंगे. उन्होंने कहा कि वे एक संवैधानिक पद पर हैं और नियम तथा पद की गरिमा के अनुरूप स्वतंत्रता दिवस को तिरंगा फहराएंगे. उन्होंने कहा कि जब तक संवैधानिक पद पर हैं अपने संवैधानिक कर्तव्य का ईमानदारी से निर्वहन करेंगे. 

दरअसल, भाजपा विधायक विजय कुमार सिन्हा को विधानसभा अध्यक्ष का पद छोड़ने के लिए महागठबंधन के दलों की ओर से दवाब बनाया जा रहा है. हालांकि नियमों के हिसाब से विजय सिन्हा का कहना है कि फ़िलहाल उनके पद छोड़ने का सवाल नहीं है. उन्हें पद से हटाने के लिए जिन नियमों को अपनाया जाना चाहिए महागठबंधन की ओर से ऐसा कुछ नहीं किया गया है. चुकी विधानसभा अध्यक्ष का पद एक संवैधानिक पद है इसलिए वे नियमों के अनुरूप मौजूदा राजनीतिक हालात पर कुछ नही कहेंगे और पद भी नहीं छोड़ेंगे. 

उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा की गरिमा को बढ़ाने के लिए जितना भी अवसर मिला, हमने किया है. उसे लोगों ने देखा है. हमारी कोशिश रहेगी कि वो गरिमा बढ़ते रहे. इसी के तहत 15 अगस्त को विधानसभा में झंडोत्तोलन करेंगे. विधानसभा में तिरंगा फहराने का जिम्मा विधानसभा अध्यक्ष को होता है इसलिए वे उसी के तहत झंडा फहराएंगे. 

हालांकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने विजय सिन्हा के अध्यक्ष बने रहने पर आपत्ति जताई है. दोनों की ओर से कहा गया कि चुकी अब एनडीए की सरकार नहीं है इसलिए भाजपा विधायक होने के नाते विजय सिन्हा को पद छोड़ देना चाहिए. ऐसे में उन्हें पद छोड़ना ही होगा.

इस बीच राज्य अगला विधानसभा का अध्यक्ष कौन होगा यह भी बड़ा पेंच बन गया है. राजद, कांग्रेस और जदयू तीनों की ओर से इस महत्वपूर्ण पद पर दावा किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि तीनों दलों में इसे लेकर माथापच्ची की जा रही है. हालांकि अभी तक किसी दल ने अपने उम्मीदवार के नाम का खुलासा नहीं किया है. 


Find Us on Facebook

Trending News