विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा पहुंचे बड़हिया, कहा हम लोगों ने पांच मुक्त, पांच युक्त और पांच सम्मान प्रारंभ कराया है

विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा पहुंचे बड़हिया, कहा हम लोगों ने पांच मुक्त, पांच युक्त और पांच सम्मान प्रारंभ कराया है

LAKHISARAI : विधानसभा अध्यक्ष सह क्षेत्रीय  विधायक विजय कुमार सिन्हा आज बड़हिया पहुंचे. जहाँ मां जगदंबा मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद बड़हिया स्थित डाक बंगला में पत्रकारों को सम्मानित किए. इसके बाद ट्रेन आंदोलन मे शामिल अनशन कारियों से बातचीत की. उन्होंने कहा कि मैंने रेल मंत्री पीयूष गोयल को यहां की समस्या से अवगत कराया है और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, क्षेत्रीय सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह के साथ मिलकर हम इस कार्य को आगे बढ़ाएंगे. 

वहीँ उन्होंने कहा की इस वर्ष विधानसभा का शताब्दी वर्ष मनाया गया. 100 वर्ष इस साल विधानसभा का पूरा हुआ है और सौभाग्य का अवसर आप लोगों के आशीर्वाद से हमको सेवा का मौका मिला है. इसमें हम लोगों ने पांच मुक्त, पांच युक्त और पांच सम्मान की व्यवस्था का प्रारंभ करवाया है. पांच मुक्त जो सामाजिक अभिशाप है उसको हर परिवार के अंदर हम अपने ही घर से शुरू करेंगे. हमारे मंत्री, विधायक, जनप्रतिनिधि, बुद्धिजीवी, पदाधिकारी,कर्मचारी, व्यापारी जितने क्षेत्र तक जा सके इसको अभियान में शुरू करना है. पाँच मुक्त का जो है पहला नशा मुक्त मेरा परिवार हो यह हम अपने घर के आगे लिखेंगे. हमको लगता है आज भी समाज के अंदर बहुसंख्यक नशा मुक्त परिवार है. दूसरा अपराध मुक्त मेरा परिवार हो तो हम अपराध मुक्त लिखेंगे. तीसरा बाल श्रमिक मुक्त मेरा परिवार हो. चौथा बाल विवाह मुक्त मेरा परिवार है और पांचवा दहेज मुक्त परिवार है. यह पांच मुक्त अभियान सभी लोग शुरू करें और नैतिक रूप से यह संकल्प लें और इस को आगे बढ़ाएं. 

इसी तरह पांच युक्त का हम लोगों ने बात किया है. पाँच युक्त में हम लोगों ने कहा है आज हमारा परिवार समाज डिजिटल साक्षर हो. इसके पहले स्वच्छता युक्त हमारा परिवार रहे, योगा आयुर्वेद युक्त परिवार हो, जल संचय युक्त हो, वर्षा के जल का संचय हो, प्रकृति युक्त हो. कम से कम एक पेड़ हम अपने जन्मदिन पर, शादी के सालगिरह पर जरूर लगाएं. प्रकृति का सम्मान करें. विरासत का सम्मान हो हर परिवार के अंदर कोई ना कोई विशिष्टता प्राप्त किए हुए लोग रहते हैं. हमारे परिवार में ऐसे लोग हैं जिन पर हम गर्व कर सकें. यह विरासत युक्त वातावरण को हर विधानसभा से विधायकों के माध्यम से मंँगवा कर के राष्ट्रपति से जो कार्यक्रम प्रारंभ होगा और प्रधानमंत्री जी के द्वारा समापन होगा. उसमें प्रदर्शनी भी हम विधानसभा वाइज लगवाएंगे. 

पांच सम्मान जो परिवार डिजिटल साक्षर है. उसको सम्मानित करें. परिवार अगर आज के डेट में आप बीए और एमए किए हुए हैं. पर डिजिटल नॉलेज नहीं है. तो आप अनपढ़ है. डिजिटल साक्षर परिवार को सम्मानित किया जाएगा. उसमें कोई भी डिजिटल अनपढ़ नहीं हो. दूसरा हमारा है स्वरोजगार प्रेरक एग्रीकल्चर के क्षेत्र में, रोजगार के क्षेत्र में, स्वरोजगार प्रेरणा देने वाला हो, सब रोजगार में लगा हुआ हो. कोई भी बैठा हुआ घर पर नहीं हो. स्वरोजगार प्रेरक को सम्मानित करें. ताकि दूसरे भी उनसे प्रेरणा ले सकें. तीसरा है रोजगार प्रेरक, रोजगार सृजन करने वाला उसको सम्मानित करें. ताकि नौजवानों को रोजगार का अवसर मिल सके. चौथा है समाजिक योद्धा जो सामाजिक योद्धा हो चाहे समाज के लिए जो काम करता हो .अभी जैसे बहुत सारे कार्यकर्ता सामाजिक कार्य के लिए अनशन पर बैठे है. निस्वार्थ भाव से लड़ाई लड़ रहे हैं.  निस्वार्थ भाव से जो हमारे सैनिक है. जो अपने परिवार को और अपने सुख को त्याग कर निस्वार्थ भाव से सीमा पर कार्य कर रहे हैं. स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, सुरक्षाकर्मी ऐसे सामाजिक योद्धाओं का भी सम्मान करें और अंतिम है. दाता जिनमें दान करने की प्रवृत्ति है. समाज के लिए जैसे अभी कोरोना में सरकार के अलावा समाज के लोगों ने दान देकर लोगों को बचाया .उन्हीं की बदौलत कोरोना में एक भी व्यक्ति की मौत भूख के कारण नहीं हुई. हर एक व्यक्ति अपने आसपास के लोगों का मदद किया. यह सामाजिक बदलाव का परिणाम है. इस दौरान पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष सुनील कुमार सेवी, राजकुमार सिंह भुट्टू, ओमप्रकाश सिंह, महेश कुमार, उपेंद्र सिंह, पूर्व नपं उपाध्यक्ष प्रमोद सिंह, रामानुग्रह सिंह, नरोत्तम कुमार, लाला भैया, राजेश कुमार, सुनील सिंह, संजय सिंह, ओमप्रकाश कुमार, सुमीत कुमार, शशांक कुमार आदि उपस्थित रहे. 

लखीसराय से कमलेश की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News