बच्चा चोर की अफवाह पर ग्रामीणों ने कर दी विक्षिप्त की पिटाई, थानाध्यक्ष ने कहा होगी कार्रवाई

बच्चा चोर की अफवाह पर ग्रामीणों ने कर दी विक्षिप्त की पिटाई, थानाध्यक्ष ने कहा होगी कार्रवाई

SITAMRHI : मॉब लिंचिंग को लेकर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय लगातार लोगों से कानून हाथ में नहीं लेने की अपील कर रहे हैं. इसके बावजूद बिहार में ऐसी घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. ताजा मामला सीतामढ़ी जिले के रीगा थाना क्षेत्र के मील चौक से सटे पंछोर गांव का है. वहाँ उस समय अफरा-तफरी का माहौल हो गया है, जब कुछ ग्रामीणों ने एक मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति को बच्चा चोर समझकर जमकर धुनाई कर दिया. 

मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह एक व्यक्ति को देख पंछोर के कुछ बच्चों और ग्रामीणों ने बच्चा चोर का अफवाह फैला दिया. देखते ही देखते अफवाह जंगल में आग की तरह फैल गई और सैकड़ों की संख्या में भीड़ इकट्ठा हो गई. इसके बाद बिना कुछ सोचे समझे ग्रामीणों ने युवक की जमकर धुनाई कर दी. हालांकि मौके पर पहुंचे रीगा थानाध्यक्ष समेत अन्य पुलिस बलों को भी ग्रामीणों के आक्रोश को झेलना पड़ा. कुछ ग्रामीणों ने युवक को एक कमरे में बंद कर दिया. पुलिस द्वारा युवक को जैसे-तैसे थाना लाया गया. 

हालांकि इस दौरान ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा. पुलिसिया पूछताछ में युवक ने अपना नाम मुख्तार राठौर बबुआ जिले के कर्माविनी गांव का रहने वाला बताया है. युवक ने बताया कि परिवारिक कलह से तंग आकर यहां आ गया हूँ. जबकि थानाध्यक्ष सुभाष मुखिया ने बताया कि युवक को देखने से वह अर्ध विक्षिप्त लग रहा है. उन्होंने कहा की  शरारती तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है. झूठी अफवाह फैलाने वाले एवं विधि व्यवस्था खराब करने वाले पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. उधर इस संबंध में किसी भी व्यक्ति द्वारा अपने बच्चे की चोरी की बात पुलिस को नहीं बताई गई है या युवक पर किसी तरह का आरोप का आवेदन नहीं दिया गया है.

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News