ग्रामीणों ने भाजपा विधायक को खदेड़ा, कहा चुल्लू भर पानी में डूब कर मर जाता ऐसा विधायक, पढ़िए पूरी खबर

ग्रामीणों ने भाजपा विधायक को खदेड़ा, कहा चुल्लू भर पानी में डूब कर मर जाता ऐसा विधायक, पढ़िए पूरी खबर

VAISHALI : खबर वैशाली जिले के तिसीऔता थाना क्षेत्र से हैं। जहां बीजेपी विधायक को स्थानीय लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं मौके से विधायक को खदेड़ भी दिया गया। चुल्लू भर पानी में डूब कर मर जाता ऐसा विधायक यह कहते हुए ग्रामीणों ने पातेपुर से भाजपा विधायक लखेंद्र कुमार रोशन उर्फ़ लखेंद्र पासवान को भगा दिया। दरअसल 3 दिन पूर्व लखेंद्र कुमार रोशन के ही पैतृक पंचायत शाहपुर बिजरौली गांव में एक दलित युवती का शव गांव के ही पोखर में ही मिला था। बरामद युवती के साथ अपहरण के बाद दुष्कर्म और हत्या की बात सामने आई थी। जिसके बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी। 

बताया गया था कि एक सप्ताह पूर्व से ही युवती लापता थी। जिसको लेकर गांव के ही एक दबंग परिवार पर अपहरण का आरोप भी लगा था। पीड़ित परिवार ने दबंग परिवार से बेटी को वापस लौटाने की गुहार भी लगाई थी। स्थानीय लोगों के सामने ही दबंग परिवार ने 2 दिन में उसकी बेटी को वापस करने का भरोसा भी दिलाया था। इसके एवज में उससे पुलिस केस ना करने के लिए चेतावनी दी गई थी। लेकिन 6 दिन बाद गांव के ही पोखर से युवती का अर्धनग्न अवस्था मे शव मिलने के बाद ग्रामीणों का गुस्सा चरण पर है। शव मिलने के बाद जहां आक्रोश में लोगों ने सड़क जाम किया था। वहीं मामले को तूल पकड़ता देख राजनीति भी तेज हो गई है। राजद नेता एवं पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम और वर्तमान राजापाकर विधायक प्रतिमा कुमारी ने गांव में पहुंचकर परिजनों से मुलाकात की। सभी ने जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की है। इसके बाद ग्रामीण युवक-युवतियों ने कैंडल मार्च निकाला। लेकिन तब तक स्थानीय विधायक लखेंद्र पासवान के कान पर जूं तक नहीं रेंगा। 


आज जब विधायक वहां पहुंचे तो ग्रामीणों ने उन्हें यह का कर भगा दिया की ग्रामीण होकर भी अब तक कहां थे। जब विपक्ष के नेता शिवचंद्र राम और प्रतिमा कुमारी पहुंची तो क्या सिर्फ खानापूर्ति करने आए हैं। एक सप्ताह पूर्व लड़की का अपहरण हो गया था। जिसने अपहरण किया था। उसके बारे में भी सभी लोग जानते हैं। लेकिन विधायक पूछने तक नहीं आये और जब लाश मिल गया तो शव देखने नहीं आए। ऐसे विधायक का होना और ना होना एक ही बात है। इसलिए उन्हें हम लोगों ने भगा दिया। स्थानीय उपेंद्र राम ने कहा कि स्थानीय विधायक को इसलिए भगा दिया कि वह बगल गांव के हैं। बहू बेटी की इज्जत लूट गई और वह कान में तेल डालकर सोये हुए थे। जो बच्ची मरी है यह सारे समाज की बच्ची है। 3 दिन से विधायक कहां थे। अभी चेहरा दिखा रहे हैं। ऐसा कौन सा बीमारी हो गया था कि नहीं आए। 

विधायक के समय पर नहीं पहुंचने से आक्रोशित उपेंद्र राम ने आगे कहा कि तुमको हार्ड अटैक क्यों नहीं आ गया। चुल्लू भर पानी में डूब कर मर क्यों नहीं जाता। बच्ची का अपहरण, दुष्कर्म और हत्या जैसे आरोप पीड़ित पक्ष ने लगाया है। स्थानीय लोगों को मुख्य रूप से गुस्सा पुलिस प्रशासन से है। जहां अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।  सभी आरोपी फरार बताए जा रहे हैं। ऐसे में ग्रामीणों ने लेट से पहुंचे मौके पर स्थानीय विधायक पर ही सारी भड़ास निकाल दी।

वैशाली से राजकुमार की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News