गोपालगंज में अनूप हत्याकांड को लेकर ग्रामीणों ने किया जमकर बवाल, आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग

गोपालगंज में अनूप हत्याकांड को लेकर ग्रामीणों ने किया जमकर बवाल, आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग

GOPALGANJ : कुचायकोट प्रखंड के गोपालपुर और कुचायकोट थाना क्षेत्र में शनिवार को दिन भर अनूप हत्याकांड के विरोध में ग्रामीणों का विरोध प्रदर्शन और सड़क जाम चलता रहा। इस क्रम में बथना कुटी के पास एनएच 27 को भी प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने लगभग 4 घंटे तक पूरी तरीके से जाम रखा और सड़क पर वाहनों का आवागमन बाधित रहा। मौके पर पहुंचे सीओ उज्ज्वल कुमार चौबे  तथा आधा दर्जन थानों के पुलिस पदाधिकारियों के लाख समझाने बुझाने के बाद भी प्रदर्शनकारी हटने को तैयार नहीं थे। प्रदर्शनकारी पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने ,गोपालपुर थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई करने और आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग पर अड़े थे। शाम  5 बजे के बाद अनूप कुमार हत्याकांड के आरोपियों के शीघ्र गिरफ्तारी के आश्वासन के बाद  एनएच 27 पर प्रदर्शन और जाम समाप्त हुआ। जाम के एनएच 27 पर लगभग 10 किलोमीटर लंबी वाहनों की कतार लग गई। जाम समाप्त होने के बाद पुलिस ने धीरे धीरे वाहनों का आवागमन शुरू कराया।

शनिवार की सुबह करीब 9:00 बजे ही संगवाडीह  पंचायत से बड़ी संख्या में ग्रामीण गोपालपुर थाना क्षेत्र के  राजापुर बाजार पहुंच गए। इन ग्रामीणों में महिलाओं की भी बड़ी भागीदारी थी। राजापुर बाजार पहुंचने के बाद प्रदर्शनकारियों ने बथुआ  कोटनरहवा  और गंडक नहर के किनारे 0 आरडी से गोपालगंज जाने वाली सड़क को जाम कर पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण गोपालपुर थाना अध्यक्ष पर अनूप हत्याकांड में लापरवाही बरतने और आवश्यक कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगा रहे थे। ग्रामीणों का कहना था की हत्याकांड के 5 दिन बीत जाने के बाद इस मामले के आरोपीयो की गिरफ्तारी पुलिस द्वारा नहीं की गई और ना ही आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए कोई सार्थक प्रयास किया गया। लगभग 3 घंटे तक राजापुर बाजार में विरोध प्रदर्शन और धरना देने के बाद प्रदर्शनकारी कुचायकोट थाना क्षेत्र के बथना कुट्टी बाजार के पास एनएच 27 पर पहुंचे और सड़क के एक लेन पर टेंट लगाकर धरने पर बैठ गए और प्रदर्शन करने लगे। 

ग्रामीणों द्वारा सड़क पर टेंट लगा दिए जाने के बाद एनएच पर वाहनो का आवागमन पूरी तरीके से बाधित हो गया और एनएच पर वाहनों की लंबी लाइन लगने लगी। घटना की जानकारी लगने के लगभग एक घंटे बाद सीओ उज्ज्वल कुमार चौबे तथा  कुचायकोट थानाध्यक्ष किरण शंकर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुचे। आक्रोशित ग्रामीणों के रुख को देखते हुए मौके पर कुचायकोट पुलिस के अलावा  विशंभरपुर, थावे,बरौली तथा गोपालपुर  पुलिस को भी  बुला लिया गया। आक्रोशित ग्रामीण गोपालपुर थाना अध्यक्ष को मौके पर बुलाने और उन पर कार्यवाही की मांग कर रहे थे। ग्रामीणों का कहना था की पूरे मामले में जिस तरह गोपालपुर पुलिस ने शिथिलता बरती। उससे उनके कार्य प्रणाली पर संदेह होता है। शाम तक चले बातचीत और मान मनोबल के बाद  शाम 5 बजे आरोपियों के शीघ्र गिरफ्तारी के आश्वासन के बाद आक्रोशित ग्रामीण शांत हुए और सड़क से टेंट को हटाकर जाम को समाप्त किया।

गोपालगंज से मनान अहमद में रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News