बाढ़ पूर्व तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे अधिकारियों का ग्रामीणों ने किया घेराव, ट्रैक्टर लगाकर रोका रास्ता, गाड़ियों की निकाल दी हवा

बाढ़ पूर्व तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे अधिकारियों का ग्रामीणों ने किया घेराव, ट्रैक्टर लगाकर रोका रास्ता, गाड़ियों की निकाल दी हवा

SITAMARHI : जिले के मेजरगंज प्रखंड क्षेत्र के रुसलपुर गांव के समीप से बहने बाली बागमती नदी के कटाव से आहत ग्रामीणों का आज आक्रोश फूट पड़ा। मुजफ्फरपुर प्रक्षेत्र के बाढ़ संघर्षात्मक बल के अध्यक्ष, अधीक्षण अभियंता व कार्यपालक अभियंता के पहुंचते ही लोगों ने उनका घेराव कर दिया। वही आक्रोशित ग्रामीणों ने अधिकारियों के वाहनों के पहिए से हवा निकाल कर उसके आगे ट्रेक्टर ट्रॉली लगा दिया। वहीँ ग्रामीण सड़क जाम कर जिलाधिकारी को बुलाने की मांग पर डटे रहे। 

सूचना पर पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी तरुण कुमार, थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने ग्रामीणों की समझाने बुझाने का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण नही माने। वे लगातार डीएम को स्थल पर आने की मांग पर कर रहे थे। सूचना पर पहुंचे हेड क्वार्टर डीएसपी ने ग्रामीणों को समझाया बुझाया और हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। करीब छह घंटे के घेराव के बाद ग्रामीणों का गुस्सा कम हुआ तब जाकर अधिकारी मुक्त हुए। ग्रामीणों का कहना है की पिछले दो वर्षों से बागमती का कटाव तेजी से हो रहा है। 

उन्होंने कहा की जिले के प्रभारी मंत्री सहित स्थानीय सांसद, विधायक के आश्वासन के सिवा धरातल पर कोई कार्य नहीं हुआ। आज लोग अपने जीवन की गाढ़ी कमाई से बनाए गए घर को छोड़कर पलायन के लिए मजबूर हैं। जब - जब बाढ़ आती है। सुरक्षा के नाम पर सरकारी खजाना का बंदरबांट होता है। पिछले दिनों ही बचाव कार्य में काफी अनियमितता देख ग्रामीणों ने जमकर बवाल काटा था। लेकिन अधिकारियों द्वारा केवल आश्वासन ही मिला।

सीतामढ़ी से अविनाश कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News