विप के सभापति ने हिंदी पखवाड़ा और चौदस मेला का किया उद्घाटन, प्रतिभागियों को किया सम्मानित

विप के सभापति ने हिंदी पखवाड़ा और चौदस मेला का किया उद्घाटन, प्रतिभागियों को किया सम्मानित

PATNA : बिहार-हिंदी-साहित्य सम्मेलन हिंदी पखवाड़ा एवं पुस्तक चौदस मेला का उद्घाटन सभापति, बिहार विधान परिषद् देवेश चंद्र ठाकुर द्वारा किया गया। वे बिहार-हिंदी-साहित्य सम्मेलन कदम कुआं पटना के सभागार में पुरस्कार सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुए। 


उन्होंने श्रुति लेख प्रतियोगिता, व्याख्यान प्रतियोगिता, निबंध लेखन प्रतियोगिता, काव्य-कार्यशाला, कथा-कार्यशाला, काव्य-पाठ प्रतियोगिता, बाल कवि प्रतियोगिता, श्लोक गायन प्रतियोगिता, देशभक्ति-गीत प्रतियोगिता, साहित्य प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, दोहा प्रतियोगिता, साकारात्मक भारत अभियान, संस्कृत संभाषण प्रतियोगिता में विजेता छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। 

इस अवसर पर उन्होंने हिंदी के प्रचार प्रसार पर जोर दिया और कहा की हिंदी निश्चित तौर पर हमारी राष्ट्रभाषा है, इसके विकास और प्रचार प्रसार के लिए हम सबको अपनी तरफ से प्रयास करनी चाहिए। हिंदी साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष अनिल सुलभ ने भी अपनी बात रखी।

इस अवसर पर विजय शंकर दुबे, पूर्व मुख्य सचिव बिहार, राज्यवर्धन आजाद अध्यक्ष विश्वविद्यालय सेवा आयोग, डॉ राजकुमार नाहर, कार्यक्रम प्रमुख दूरदर्शन बिहार, डॉ शंकर प्रसाद, उपाध्यक्ष साहित्य सम्मेलन, शिव शंकर पांडेय, प्रधानमंत्री बिहार हिंदी साहित्य सम्मेलन, उपाध्यक्ष शंकर प्रसाद, उपाध्यक्ष मधु वर्मा, पदाधिकारी डॉ नागेश्वर प्रसाद यादव दुबे उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन सुनील कुमार दुबे एवं धन्यवाद ज्ञापन कृष्ण रंजन सिंह ने किया।

पटना से वंदना शर्मा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News