परिवहन विभाग ने कर्मियों का कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए किया जागरूकता कार्यक्रम, विशेषज्ञों ने दिये कई टिप्स

परिवहन विभाग ने कर्मियों का कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए किया जागरूकता कार्यक्रम, विशेषज्ञों ने दिये कई टिप्स

PATNA : परिवहन विभाग के पदाधिकारियों एवं कर्मियों के कार्यक्षमता को और अधिक बढ़ाने के लिए शनिवार को ऊर्जा विभाग, सामुदायिक भवन में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पदाधिकारियों व कर्मियों के कार्य क्षमता में किस प्रकार वृद्धि हो और तनावरहित कार्य कर सकें।  इसका टिप्स विशेषज्ञों द्वारा दिया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन परिवहन विभाग की मंत्री शीला कुमारी ने किया। उन्होंने सड़क सुरक्षा माह के दौरान व्यापक रुप से जिलों में चलाए जा रहे जागरुकता कार्यक्रमों की सराहना की। वहीँ कहा कि सड़क सुरक्षा एवं स्वास्थ्य दोनों हर व्यक्ति के जिंदगी के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। मन को नियंत्रित करने का सबसे बेहतर माध्यम योगाभ्यास है। 

वहीँ परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि सभी पदाधिकारी एवं कर्मी अपने दायित्वों का निर्वहन और भी बेहतर तरीके से तनावरहित होकर कर सकें। इसके लिए सामान्य स्वास्थ्य जांच के साथ जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।  सड़क सुरक्षा हर व्यक्ति के सुरक्षित जीवन के लिए महत्वपूर्ण है। सड़क सुरक्षा के विभिन्न नियमों का अपना कर न सिर्फ खुद को सुरक्षित रख सकते हैं, बल्कि अपने परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित कर सकते हैं। योगा एवं मेडिटेशन कर तन-मन को स्वस्थ्य रख सकते हैं तो वहीं सड़क सुरक्षा नियमों को अपना कर सुरक्षित यात्रा कर सकते हैं। 

परिवहन सचिव ने कहा कि राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के दौरान मुख्यालय एवं जिला स्तर पर विभिन्न तरह के जागरुकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी के तहत निःशुल्क सामान्य स्वास्थ्य जांच, नेत्र जांच, रक्तदान, प्री हाॅस्पिटल ट्रेनिंग, ड्राइवर प्रशिक्षण एवं अन्य कई तरह के जागरुकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। धन्यवाद ज्ञापन राज्य परिवहन आयुक्त सीमा त्रिपाठी ने की। इस मौके पर संयुक्त सचिव पंकज कुमार, उप सचिव शैलेंद्र नाथ, विशेष कार्य पदाधिकारी आजीवत्सराज आदि उपस्थित थे।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News