वोट मागने जनता के बीच गए नीतीश के मंत्री ने नहीं बताया 5 साल की 5 उपलब्धि... विरोध के बाद वापस लौटे. ...

वोट मागने जनता के बीच गए नीतीश के मंत्री ने नहीं बताया 5 साल की 5 उपलब्धि... विरोध के बाद वापस लौटे.  ...

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर नेता क्षेत्र में जनता के बीच पहुंच रहे हैं और उनसे वोट देने की गुजारिश कर रहे ।कुछ नेताओं को जनता के विरोध का सामना करना पड़ रहा है खासकर मौजूदा सरकार के मंत्री और विधायक के साथ इस तरह की घटनाघटते दिखती है।नीतीश सरकार के कई मंत्री और विधायक ऐसे है जिन्हें जनता के आक्रोश का सामना टरना परता है।कुछ इसी तरह का नजारा मधुबनी के लौकहा देखने को मिला जहां बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय जनता के बीच जनसंपर्क अभियान के तहत पहुंचे थे और अपने पक्ष में वोट मांग रहे थे तभी एक युवा संगठन से जुड़े लोगों ने उन्हें घेर लिया और उनके द्वारा किये गए कार्यों पर सवाल पूछने लगे। युवाओं ने बाकायदा इसका वीडियो भी बनाया, जो अब सोशल मीडिया पर शेयर हो रहा है।


वीडियो में दिख रहा है  कि 'युवा शक्ति' नाम के एक संगठन से जुड़े कुछ युवा मंत्रीजी को घेरकर उनसे सवाल पूछ रहे हैं। कह रहे हैं कि आपने पिछले पांच साल में कौन से पांच काम किये हैं, ये बता दीजिये। लेकिन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय यह कहकर वहां से निकलने की कोशिश कर रहे हैं कि आप अपना काम कीजिये, हम अपना काम करेंगे।ग्रामीणों के अनुसार सिसवार गांव का हॉस्पिटल वर्षो से बंद पड़ा हुआ है। 

जनप्रतिनिधियों से इसके लिए कई बार बात की गई लेकिन कभी किसी ने ध्यान नहीं दिया। आज चुनाव के वक़्त मंत्री सह जदयू विधायक लक्ष्मेश्वर राय जब अपने कार्यकर्ताओं के साथ जनसम्पर्क कर रहे थे, तब ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। इसी दौरान कई युवक विधायक के समीप पहुंचे, उन्हें नमस्कार किया और बीते सालों के कार्य का हिसाब मांगने लगे। इस बीच विधायक और उनके साथ मौजूद सुरक्षाकर्मी व कार्यकर्ता मौका देख निकलने लगे।इस घटना को लेकर मंत्री लक्ष्मेश्वर राय का कहना है कि प्रखंड क्षेत्र में विकास का कार्य किया गया है। आज कुछ असामाजिक लोगों के द्वारा राजनीतिक साजिश के तहत इस तरह का काम किया गया। कई युवकों ने मुझे जातिसूचक शब्दों के साथ अपमानित किया। छोटी सी बहस हुई है। लेकिन इससे चुनाव में कोई फर्क नही पड़ेगा।

बीते चार दिनों में मंत्रियों के विरोध की यह तीसरी घटना है। इससे पहले 21 अक्टूबर को दरभंगा के बहादुरपुर विधानसभा में अपने लिए वोट मांगने पहुंचे नीतीश सरकार के खाद्य आपूर्ति मंत्री मदन सहनी को भी ग्रामीणों ने घेर लिया था। उनसे पूछा गया कि चुनाव जीतने के बाद एक बार भी जनता के बीच क्‍यों नहीं आये? इसके अगले ही दिन भाजपा कोटे से मंत्री व लखीसराय के स्थानीय विधायक विजय सिन्हा का भी उनके ही इलाके में विरोध हुआ था। इससे पूर्व एक मंत्री माहेश्वर हजारी को भी ग्रामीणों ने खदेड़ दिया था।

Find Us on Facebook

Trending News