वृंदावन इस्कॉन मंदिर में मिले 22 कोरोना संक्रमित मरीज, जन्माष्टमी से पहले मंदिर परिसर को किया गया सील

वृंदावन इस्कॉन मंदिर में मिले 22 कोरोना संक्रमित मरीज, जन्माष्टमी से  पहले मंदिर परिसर को किया गया सील

News4nation desk : यूपी के वृंदावन से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां जन्माष्टमी से पहले वृंदावन स्थित इस्कॉन मंदिर के पूरे परिसर को सील कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि मंदिर में कोरोना संक्रमित 22 मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मंदिर को सील कर दिया है।

इसके साथ ही संक्रमित मिले व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों को भी चिन्हित कर उनकी जांच स्वास्थ्य विभाग द्वारा कराई जा रही है।

कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ. भूदेव ने बताया कि इस्कॉन टेम्पल वृंदावन में रह रहे लोगों को सैम्पलिंग की गई जिनमें से 22 लोग संक्रमित मिले हैं। उन्होंने बताया कि जो लोग संक्रमित मिले हैं उनकी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग कराई जा रही है और सर्वे कराकर सैम्पलिंग कराने का काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल के तहत मंदिर को सील कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक पिछले दिनों इस्कॉन से जुड़े भक्ति चारु महाराज का अमेरिका में निधन हो गया था। इस्कॉन से जुड़े लोग उन्हें भारत लेकर आए और पश्चिम बंगाल में उनका रीति रिवाज के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

बताया जा रहा है कि उनके अंतिम दर्शनों के लिएइस्कॉन वृंदावनके कुछ लोग पश्चिम बंगाल गए थे। करीब 10-12 दिन पूर्व कब वे लोग वापस वृंदावन पहुंचे तो उनमें से 2 लोग कोरोना संक्रमित मिले। इसके बाद से इस्कॉन के आवासीय परिसर में रह रहे लोगों की सैंपलिंग की गई जिनमें से मंगलवार तक यहां कोरोना संक्रमित मिले मरीजों की संख्या बढ़कर 22 पर पहुंच गई है। जो लोग संक्रमित मिले हैं उनमें 3 मंदिर के पुजारी और 4 ब्रह्मचारी भी शामिल हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News