हार्ट के लिए फायदेमंद है अखरोट, जानें कब और कितना खाना चाहिए

हार्ट के लिए फायदेमंद है अखरोट, जानें कब और कितना खाना चाहिए

DESK:कहा जाता हैं की जिसका हृदय स्वस्थ हो, उसका पूरा शरीर स्वस्थ होता हैं. इसलिए अपने डाइट में उन उपायों को अपनाना बेहद महत्वपूर्ण है जो आपके हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करेगी. आम तौर पर हम जो भी खाते है वह न केवल हमारे  शारीर का वजन बढ़ता है बल्कि हमारे हृदय पर भी असर डालता है. इसलिए हमे कुछ सूखे मेवों का सेवन भी करना चाहिए जो हमारे सेहत के साथ - साथ संपूर्ण स्वस्थ्य के लिए भी फायदेमंद हो. अपने हृदय को स्वस्थ रखने के लिए अपने आहार में अखरोट को जरूर शामिल करे. तो आइए जानते है अखरोट के फायदे..!    

डॉक्टरों का कहना है कि सूखे मेवे न केवल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं बल्कि इनमें कई बायोएक्टिव होते हैं जो सेहत को दुरुस्त रखने में मदद करते हैं. अखरोट मस्तिष्क के साथ-साथ हृदय के लिए भी फायदेमंद होता है. यह हृदय के कार्यों को संचालित व नियमित करता है और उसमें सुधार भी लाता है. अखरोट में ओमेगा फैटी एसिड ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, जिसके कारण यह कार्डियोवैस्कूलर सिस्टम के लिए बहुत लाभकारी होता है. ओमेगा 3 फैटी एसिड शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं जो कि हृदय के लिए फायदेमंद है. यह भी पाया गया है कि रोजाना केवल कुछ अखरोट खाने से ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिल सकती है, इसलिए हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए. साथ ही हाई ब्लड प्रेशर की स्थिति में कोशिकाओं में उच्च दबाव के खिलाफ रक्त पंप करने से हृदय की मांसपेशियां मोटी हो जाती हैं. आखिरी में मोटी मांसपेशियों को शरीर की जरूरत पूरी करने में दिक्कत होगी और वह पर्याप्त रक्त को पंप नहीं कर पाएंगी. इस वजह से हृदय रुक सकता है. बता दें की अखरोट विटामिन बी, फाइबर, मैग्नीशियम और एंटीऑक्सिडेंट जैसे विटामिन ई से भरपूर हैं. अखरोट प्रोटीन के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक हैं. अखरोट सूजन को नियंत्रित करने, वजन घटाने में भी मदद करता है. ये सभी गुण एक साथ हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं.

कितने और कब खाएं अखरोट

अखरोट का सेवन करते समाये कुछ बातों को ध्यान में जरूर रखे क्यूंकि अखरोट में कैलोरी ज्यादा होती है और उन्हें संयम से सेवन करने की सलाह दी जाती है. अधिक मात्रा में सेवन वजन बढ़ा सकता है. अखरोट के अधिक सेवन को डायरिया से भी जोड़ा गया है. लोगों को लगता है कि इसमें फैट बहुत मात्रा में होता और ये शरीर का वजन बढ़ा देगा, लेकिन इसके विपरीत सीमित मात्रा में अखरोट का सेवन वजन कम करने में भी मदद करता है, क्योंकि सही मात्रा में प्रोटीन, फैट्स और कैलोरी मिली हुई है. इसका सेवन रोजाना एक से दो अखरोट का सेवन सुबह या शाम के नाश्ते के रूप में किया जा सकता है. एक दिन में पांच से ज्यादा अखरोट का सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है. यह गर्म होता है और बुखार, छालें जैसी बीमारी बढ़ा सकता है. कफ हो तो इसका सेवन न करें. खाली पेट अखरोट का सेवन न करें. अखरोट के तेल से कुछ दिनों के लिए पेट में जलन हो सकती है. अखरोट के सेवन का सही तरीका है कि इसे केले या दही में मिलाकर मिश्रण बनाकर खाएं. इसके अलावा सलाद के साथ भी अखपोट खा सकते हैं. चाहें तो अखरोट में नींबू का रस, लहसुन, जैतून का तेल, नमक और काली मिर्च मिलाकर पीस लें और इसका सेवन करें.

  


Find Us on Facebook

Trending News