कल तक जेल भेजना चाहते थे, अब कह रहे नीतीश कैबिनेट का 'हीरा' है यह मंत्री, उन्होंने जो किया वह हर कोई नहीं कर सकता है

कल तक जेल भेजना चाहते थे, अब कह रहे नीतीश कैबिनेट का 'हीरा' है यह मंत्री, उन्होंने जो किया वह हर कोई नहीं कर सकता है

PATNA : सुधाकर सिंह। बिहार सरकार में कृषि मंत्री। दस दिन पहले तक नीतीश कैबिनेट के इन मंत्री जी का परिचय  यह था कि उन्होंने बिहार सरकार का 12 करोड़ रूपए गबन किया था, धोखाधड़ी के मामले में चार माह जेल में रहे और मंत्री बनने से पहले नीतीश कुमार के खिलाफ में सुप्रीम कोर्ट में केस कर दिया। इसके साथ वह राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के बेटे हैं। इसी सुधाकर सिंह को अब तक भाजपा के तमाम नेता जेल भेजने की बात कर रहे थे। लेकिन तीन दिन में यही सुधाकर सिंह अब भाजपा के लिए नीतीश कैबिनेट का सबसे बेहतर और काबिल मंत्री बन गया है। उन्हें  कैबिनेट का हीरा तक बता दिया है। 

पिछले दिनों जिस तरह से सुधाकर सिंह खुलकर अपने विभाग में फैले भ्रष्टाचार को लेकर अपनी बात रखी, यहां तक सीएम नीतीश कुमार के सामने भी अपनी बात पर कायम  रहे, उसके बाद भाजपा नेता उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। भाजपा एमएलसी नवल किशोर यादव ने कहा कि मैं उन्हें ज्यादा नहीं जानता हूं,लेकिन उन्होंने जिस तरह अपनी बात रखी और अपनी बात पर कायम रहे, उसकी तारीफ की जानी चाहिए। एक जनप्रतिनिधि का  कर्तव्य होता है कि वह जनता के प्रति जवाबदेह हो, सुधाकर सिंह ने अपनी बातों से यह साबित कर दिया कि वह सही मायने में जनता के प्रतिनिधि हैं। नीतीश कुमार के सामने  अपनी बातों को रखा, वह आसान नहीं है। अगर कहा जाए कि वह मौजूदा  कैबिनेट का हीरा हैं तो गलत नहीं होगा। 

गौरतलब है कि कृषि मंत्री ने  कहा कि उनके विभाग में सारे अधिकारी और कर्मचारी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और मेरे ऊपर विभाग की जिम्मेदारी  है, ऐसे में मैं उनका सरदार हूं।  उनके इस बयान ने काफी हंगामा किया। जिसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने इस मुद्दे  पर उनका जवाब जानना चाहा तो वह बैठक से उठकर बाहर निकल गए। 


Find Us on Facebook

Trending News