सीतामढ़ी में बाढ़ का कहर : अब भगवान के शरण में लोग, कर रहे है पूजा-अर्चना

सीतामढ़ी में बाढ़ का कहर :  अब भगवान के शरण में लोग, कर रहे है पूजा-अर्चना

SITAMARHI : जिले में बाढ़ के कहर से स्थिति भयावह हो गई है। जिले की नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है। शहर समेत जिले के तकरीबन सभी गांव जलमग्न हो गए है। चारो ओर पानी ही पानी नजर आ रहा है। पूरा जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। 

जिला मुख्यालय का कई प्रखंडों से संपर्क भंग हो चुका है, तो कई तटबंधों के टूटने के कारण जिले के 90 प्रतिशत लोग इस भीषण तबाही से त्रस्त है। वही कई तटबंधों पर बढ़ रहे पानी के दवाब से बाढ़ की आशंकाओं के साये के बीच किसी तरह अपना जीवन यापन कर रहे है। 

इधर अधवारा समूह की नदी बागमती के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि के कारण सीतामढ़ी के ग्रामीण इलाके पूर्णतः डूब गए है।बागमती के बढ़ते प्रकोप के बाद अब लोग भगवान से राहत की गुहार लगा रहे है। ग्रामीण पुरोहितों से बागमती को आधार बना इस भीषण त्रासदी से राहत के लिए पूजा-अर्चना करवाकर वरुण देव को मनाने में लगे है।  

हालांकि जिला प्रशासन तटबंध की सुरक्षा में लगी हुई है और इसमें स्थानीय ग्रामीणों द्वारा भी पूरा सहयोग किया जा रहा है। लेकिन नेपाल से छोड़े जा रहे पानी के कारण अब भी जिले पर बाढ़ का खतरा मंडराया हुआ है। 

गौरतलब है कि जिले में अबतक बाढ़ से कुल 11 लोगो की मौत हो चुकी है।

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News