राजधानी में जलजमाव का इफेक्ट, देश के पहले खादी मॉल का उद्घाटन टला

राजधानी में जलजमाव का इफेक्ट, देश के पहले खादी मॉल का उद्घाटन टला

PATNA : देश का पहला खादी मॉल का उद्घाटन कल गया है भारी बारिश से पैदा हुई बाढ़ जैसे हालात को देखते हुए आज होने वाले खादी मॉल का उद्घाटन आगे के लिए टाल दिया गया है।

इस मॉल का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करने वाले थे यह अपनी तरह का अनूठा और देश का सबसे बड़ा खादी मॉल है 3 महीने इस मॉल में खादी और ग्रामोद्योग के उत्पादों की बिक्री होनी है देश के कई राज्यों के खाद्य स्टॉल इसमें लगाए गए हैं। 

बता दें पटना में बने देश के इस पहले खादी मॉल का शुभारंग आज 3 अक्टूबर को होना था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसका उद्घाटन करने वाले थे। बिहार में खादी वस्तुओं को बढ़ावा देने के लिए एवं गांधी के सपनों को साकार करने के लिए अत्याधुनिक संसाधनों से युक्त तीन मंजिला खादी मॉल का निर्माण किया गया है।

श्याम रजक ने बताया कि यह खादी मॉल बिहार का नहीं बल्कि पूरे देश का पहला मॉल है। बाजार के प्रतिस्पर्धा को देखते हुए खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता डिजाइन एवं बिक्री की प्रक्रिया को आधुनिक बनाया गया है। मॉल में खादी के सूती, रेशमी, ऊनी वस्त्रों रेडीमेड का अलग-अलग सेक्शन बनाया गया है। इस खादी मॉल में केवल बिहार के ही नहीं बल्कि पूरे देश के अन्य राज्यों के बने खाद्य वस्तुओं की बिक्री हेतु स्टॉल होगा।

उद्योग मंत्री ने बताया कि उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान द्वारा निर्मित हैंडीक्राफ्ट सामानों की बिक्री हेतु भी स्टॉल आवंटित किया गया है। किसान चाची के द्वारा निर्मित सामग्री मुजफ्फरपुर खादी,साबुन कॉस्मेटिक सामग्री की बिक्री हेतु भी स्टॉल आवंटित किया गया है।

उद्योग विभाग के सचिव नर्मदेश्वर लाल ने बताया कि मॉल में मशहूर कलाकारों की पेंटिंग एवं उनके द्वारा किए कार्य सामग्री भी उपलब्ध रहेगी। मॉल में खादी वस्त्रों के नए-नए डिजाइन तैयार किए जाएंगे इसके लिए बिहार राज्य खादी बोर्ड के कार्य कर रहा है। जम्मू कश्मीर, हरियाणा, गुजरात निर्मित वस्तु पर गांधी जी की मूर्ति चरखा से सुशोभित बारकोड रहेगा।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News