कुढ़नी में कमजोर और गरीब लोगों ने JDU को नहीं दिया वोट! उपचुनाव परिणाम को लेकर जगदानंद सिंह का बड़ा दावा

कुढ़नी में कमजोर और गरीब लोगों ने JDU को नहीं दिया वोट! उपचुनाव परिणाम को लेकर जगदानंद सिंह का बड़ा दावा

पटना. कुढ़नी विधानसभा चुनाव का परिणाम जारी हो गया है। भाजपा प्रत्याशी केदार गुप्ता ने महागठबंधन के प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को 3249 वोटों से पराजित दिया है। इस चुनाव परिणाम के बाद जहां एक ओर जदयू के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने पार्टी में आत्ममंथन को जरूरत बताया है, वहीं राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने गरीब और कमजोर तबके के लोगों के वोट नहीं मिलने से जदयू प्रत्याशी की हार का कारण बताया है।

दरअसल, गुरुवार को मीडिया को संबोधित करते हुए राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कुढ़नी उप चुनाव परिणाम को लेकर कहा कि 19वें राउंड तक महागठबंधन के प्रत्याशी जीत रहे थे, लेकिन चार-पांच चरणों में उल्टफेर हो गया। उन्होंने कहा कि इस चरण में कमजोर और गरीब तबके के लोगों के वोट गिनती की जा रही थी। शायद ये लोग अपने मताधिकार का प्रयोग ठीक से नहीं किया।

जगदानंद सिंह के इस बयान से स्पष्ट होता है कि कमजोर और गरीब तबके के लोगों ने जदयू प्रत्याशी को वोट नहीं दिया। इसलिए उसकी हार हुई। हालांकि जगदानंद सिंह ने आगामी चुनाव को लेकर कहा कि यह चुनाव परिणाम बताता है कि सभी सामजवादियों को एक साथ मिलकर लड़ना होगा। इसका मतलब है कि यदि आगामी चुनाव में बीजेपी के खिलाफ सीभी पार्टी मिलकर चुनाव नहीं लड़ेगी तो बीजेपी चुनाव आसानी से जीत जाएगी।

वहीं जगदानंद सिंह ने चुनाव परिणाम के प्रतिकुल आने के बाद भी सीएम नीतीश के इस्तीफे के सावाल पर बचते रहे। जब मीडिया ने उनसे सवाल किया कि उपचुनाव में जदयू की हार के बाद बीजेपी नेताश सुशील मोदी सीएम नीतीश से इस्तीफा की मांग कर रहे हैं, तो इसका सीधा जवाब देने के बजाय जगदानंद सिंह आसानी सवाल को साइड लगा दिये और इधर-उधर की बात करने लगे।

वहीं कुढ़नी चुनाव परिणाम सामने आने के बाद उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू को आत्ममंथन करने की जरूरत बताया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा इस चुनाव परिणाम से जदयू को बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। उन्होंने ट्वीट किया, 'क्या हार में, क्या जीत में किंचित नहीं भयभीत मैं । कर्तव्य पथ पर जो मिला यह भी सही वो भी सही ।। कुढ़नी के परिणाम से हमें बहुत कुछ सीखने की ज़रूरत है। पहली सीख- “जनता हमारे हिसाब से नहीं बल्कि हमें जनता के हिसाब से चलना पड़ेगा।”

कुढ़नी विधानसभा उपचुनाव के लिए 5 दिसंबर को वोटिंग हुई थी। यहां शुरू से ही भाजपा प्रत्याशी केदार गुप्ता और महागठबंधन के प्रत्याशी मनोज कुशवाहा के बीच मुकाबला बताया जा रहा था। आज उपचुनाव की काउंटिंग हुई तो परिणाम अनुमानों के अनुसार ही रहा। हालांकि कांटे की टक्कर में बीजेपी प्रत्याशी ने जदयू प्रत्याशी को अंतिम चरण तक 3249 वोटों से हरा दिया।

Find Us on Facebook

Trending News