मुसलमानों का डीएनए टेस्ट कराकर क्या पता करना चाहते हैं बिहार के भाजपा विधायक

मुसलमानों का डीएनए टेस्ट कराकर क्या पता करना चाहते हैं बिहार के भाजपा विधायक

पटना. बिहार भाजपा के एक विधायक का कहना है कि देश में आज जो मुसलमान हैं उनका किसी दौर में तलवार के दम पर धर्मान्तरण हुआ है. ऐसे में अगर मुसलमानों का डीएनए टेस्ट कराया जाए तो सब पता चल जाएगा कि उनके पूर्वज हिंदू ही थे. 

दरअसल उत्तर प्रदर्श वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने सोमवार को इस्लाम त्यागकर हिंदू धर्म अपना लिया था. उनके हिंदू धर्म अपनाने के बाद मधुबनी जिले के विस्फी से विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने एक विवादित बयान देकर फिर से चौंका दिया है. उन्होंने कहा है कि भारत के मुसलमानों के पूर्वज हिन्दू हैं. भारत में रह रहे मुसलमान कन्वर्टेड हैं. उनका कहना है कि एक दौर में इस्लामिक आक्रांताओं ने तलवार के बल पर लोगों को इस्लामिक धर्म कबूल कराया था. इसलिए देश के मुसलमानों का डीएनए टेस्ट के जरिए बहुत कुछ पता लगाया जा सकता है. 

बचौल ने यूपी के वक्फ वोर्ड के पूर्व चेयरमैन रिजवी के हिन्दू धर्म अपनाने उनकी ‘घर वापसी’ कहा है. बचौल के विवादित बयान पर कई लोगों ने सोशल मीडिया पर आपत्ति जताई है. हालांकि यह कोई पहला मौका नहीं है जब बचौल ने विवादित बयान दिया हो. उन्हें भाजपा का फायरब्रांड नेता कहा जाता है. पूर्व में कई बार अपने बयानों के कारण वे खुद और भाजपा को विवादों में घसीट चुके हैं. 

हाल में उन्होंने बिहार में शराबबंदी कानून को असफल करार दिया था. मुख्मंत्री नीतीश कुमार ने पिछले दिनों जब शराबबंदी पर सख्ती दिखाई तो उन्होंने शराबबंदी कानून की खामियां गिनाते हुए इसे वापस लेने की बात कह दी. 


Find Us on Facebook

Trending News