बच्चा चुराने के बाद उसके साथ क्या करता है बच्चा चोर गिरोह, पढ़िए पूरी खबर

बच्चा चुराने के बाद उसके साथ क्या करता है बच्चा चोर गिरोह, पढ़िए पूरी खबर

DHANBAD : यूपी के बाद अब धनबाद में भी बच्चा चोर गिरोह सक्रिय होता दिख रहा है. सोमवार को आरपीएफ धनबाद की टीम को बच्चा चोर गिरोह की गुप्त सूचना मिली थी. इस सूचना के आधार पर जोधपुर हावड़ा और जम्मूतवी एक्सप्रेस से बच्चा चोर गिरोह के चार सदस्यो को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार अपराधियो में अंजू गिरि तेलांगना, गया निवासी अनिल वैध, हनीफ और वहरा शामिल है. आरपीएफ के असिस्टेंट कमांडेंट बीरेंद्र सिंह ने बताया कि पकड़ाए अपराधियों ने पूछताछ में चौकाने वाले खुलासे किए है.

पुलिसिया पूछताछ में अपराधियों ने कबूला की बच्चा चोरी करने के बाद उनकी किडनी निकालकर बेच देते है. एक बच्चे पर 20 हजार रुपये मिलते है. आंध्र प्रदेश में इस तरह के 17 गिरोह चल रहे है. उन्होंने कहा कि यह अंतरप्रांतीय गिरोह है. यह गिरोह यूपी समेत आंध्र प्रदेश, बिहार, झारखण्ड़ फैले है. गिरोह के कई और सदस्यों को भी जल्द ही गिरफ्त में लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस मामले की छानबीन जारी है.

आरपीएफ उस चिकित्सक की भी तलाश में जुट गयी है, जो गिरोह से मिलकर किडनी निकालने में गिरोह को मदद करता है. उन्होंने बताया कि दिन के एक बजे सूचना नियंत्रण कक्ष को यह सूचना मिली थी कि हावड़ा जोधपुर एक्सप्रेस में एक व्यक्ति चोरी के आरोप में पकड़ा गया है. इस सूचना पर आरपीएफ इंस्पेक्टर अविनाश करोसिया राजेश कुमार, अमित कुमार समेत जीआरपी थाना प्रभारी बबन सिंह ने मोर्चा संभाला. स्टेशन पर हावड़ा जोधपुर ट्रेन के रुकते ही टीम ने सर्च अभियान शुरू कर दिया.

धनबाद से अजय उपाध्याय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News