जिसे पुलिस मान रही थी आत्महत्या का केस, वह निकला हत्या का मामला, लेकिन फिर भी नहीं हो रही कार्रवाई

जिसे पुलिस मान रही थी आत्महत्या का केस, वह निकला हत्या का मामला, लेकिन फिर भी  नहीं हो रही कार्रवाई

BHAGALPUR : एक माह पहले सात जून को जोकसर थाना क्षेत्र के एक किराए के मकान में रहने वाले मुंगेर के संग्रामपुर निवासी छात्र सौरभ की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गयी थी, मामले की जांच जोकसर पुलिस कर रही है, लेकिन पिता ने बड़ा खुलासा किया है, उन्होंने उसी मकान में रह रहे अन्य छात्रों पर या आरोप लगाया है, कि छात्र सौरभ की यही लोगों ने मिलकर हत्या की है, इसका खुलासा तब हुआ जब जोकसर थाना पहुंचे मृतक छात्र के पिता रामजीवन कुमार ने पैसे के लेनदेन पर उन्होंने हत्या करने की आशंका जताया है, 

मृतक छात्र के पिता रामजीवन ने मीडिया को यह कहा है कि हत्या करने में मकान मालिक की भी संलिप्तता हो सकती है,  जिस दिन सौरभ संदिग्ध परिस्थिति में उनका शव रूम से बरामद हुआ था, उस दिन सौरभ का मोबाइल बगल वाले रूम में रहने वाले युवक के पास था, आशंका जताई जा रही है कि सौरभ की पीट-पीटकर हत्या हुई है।

किसी ने कर दी थी फोटी  डिलीट

उनका कहना है कि जिस दिन वह अपने बेटे के शव को फंदे  से नीचे उतार रहे थे उस समय  मोबाइल से ही कई फोटो लिया था। अपना मोबाइल बगल में ही रहने वाले एक शक्स के यहां चार्ज पर लगाया और उस शक्स ने कई फोटो को डिलीट कर दिया था ।वही इस कुकृत्य में  मकान मालिक का भी हाथ होने का  संदेह जताया है।

पोस्टमार्टम में पीटकर मारने की बात

 पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक भी हत्या ही है, लेकिन पुलिस इस गुत्थी को सुलझाने में विफल साबित हो रही है, इस घटना के बाद माता -पिता अपने पुत्र को न्याय दिलाने के लिए थाना से लेकर वरीय अधिकारी के दफ्तर जा रहा है, इस आस मे की कोई तो सुन ले लेकिन पुलिस सुन ही नहीं रही है !

Find Us on Facebook

Trending News