जब डीजीपी पहुंचे पुलिस की खटारा जीप से, तो नवगछिया के कई थानों की पुलिस चकमा खा गई, पढ़िए पूरी रिपोर्ट.....

जब डीजीपी पहुंचे पुलिस की खटारा जीप से, तो नवगछिया के कई थानों की पुलिस चकमा खा गई, पढ़िए पूरी रिपोर्ट.....

NEWS4NATION DESK : आज सुबह डीजीपी ने ऐसा कारनामा किया जिसे पुलिस के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सपनों में नहीं सोचा होगा। थाने के बाहर खटारा पुलिस जीप को पहुंचा देख थाने में तैनात पुलिसकर्मियों को ऐसा ही लगा की कोई दरोगा या इंस्पेक्टर साहब गश्ती कर लौटे है, लेकिन जब उनके सामने सिविल ड्रेस में डीजीपी और उनके गार्ड को देखा तो उनके होश उड़ गए। 

पहले तो उन्हें यह विश्वास ही नहीं हुआ कि सामने खड़ा शख्स सूबे के पुलिस का मुखिया है। जबतक उन्हें समझ में आया तबतक बहुत देर हो चुकी थी। थाने के अंदर का नजारा और पुलिसर्कियों के कार्यशैली को देखकर डीजीपी भी आवाक रह गए। उन्होंने तत्काल पूरे थाने को ही सस्पेंड कर डाला।   

इस पूरे प्रकरण में सबसे खास बात यह रही कि डीजीपी के इस नीरिक्षण की जानकारी नवगछिया के एसपी समेत किसी पुलिस अधिकारियों को भी नहीं लगी और उन्होंने एक-एक कर चार थानों की जांच कर ली। जबतक भागे-भागे जिले के कप्तान पहुंचे तब तक डीजीपी ने थानों की हकीकत जान ली थी।

बताया जा रहा है कि किसी थाने में थानेदार नहीं थे तो कहीं ड्यूटी ऑफिसर फरार थे तो किसी थाने का स्टेशन डायरी काफी पीछे चल रहा था। 

बता दें कि सीएम नीतीश के फरमान के बाद बिहार के एक्शन में आए डीजीपी गुप्तेशवर पाण्डेय ने बड़ी कार्रवाई की हैं। उन्होंने कार्य में कोताही को लेकर नवगछिया जिले के रंगड़ा थाना के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए थानेदार से लेकर सिपाही तक को निलंबित कर दिया है। 

डीजीपी आज सुबह अचानक नवगछिया पहुंच गए। वे सीधे नवगछिया के टाउन थाना पहुंच गए और थाने के कार्यकलाप की जांच करने लगे।

डीजीपी थाने पहुंचे थे और थाने के कई स्टाफ गायब थे।साथ हीं स्टेशन डायरी भी काफी पेंडिग था।इसके बाद डीजीपी महिला थाना और एससी-एसटी थाना पहुंचे ।वहां भी थानेदार और कई स्टाफ गायब मिले और थाना का स्टेशन डायरी काफी पेंडिंग पाया गया।

डीजीपी इसके बाद रंगडा थाना पहुंच कर समीक्षा कर रहे हैं।डीजीपी के अचानक नवगछिया पहुंचने पर पूरे पुलिस महकमे में हडकंप मच गया है।सूचना मिलते हीं नवगछिया पुलिस जिले के एसपी निधि रानी भाग-भागे थाना पहुंची।डीजीपी ने स्टेशन डायरी पेंडिंग रहने पर अधिकारियों की जमकर फटकार लगाई है।

आपको बता दें कि सीएम नीतीश की 10 जून की समीक्षा बैठक के बाद डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय अबतक कई जिलों में अचानकर पहुंचकर थाने की जांच कर चुके हैं।

Find Us on Facebook

Trending News