नवादा में पशु चराने के दौरान वज्रपात की चपेट में आया अधेड़, मौके पर ही मौत, मचा कोहराम

नवादा में पशु चराने के दौरान वज्रपात की चपेट में आया अधेड़, मौके पर ही मौत, मचा कोहराम

नवादा. जिले के हिसुआ थाना क्षेत्र के बालकिशुन बीघा गांव में वज्रपात से एक व्यक्ति की मौत हो गयी। इससे परिजनों में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि भोला यादव पशु चरा रहे थे। अचानक बारिश होने लगी, जिसके बाद ताड़ के पेड़ के पास पानी से बचने के लिए खड़ा हो गये। तभी अचानक वज्रपात गिरने से इनकी मौत हो गई। इसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए शव को अस्पताल भेजा।

परिजन रंजीत कुमार ने बताया कि तेज बारिश व बादल गरज रहा था। उसी दौरान 45 वर्षीय भोला यादव बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े हो गए। उसी दौरान आकाशीय बिजली की चपेट में आने से इनकी मौत हो गई है। सभी परिवार घर में थे। अचानक गांव के लोगों ने बताया कि भोला यादव खेत में गिरे हैं। आनन-फानन में सभी लोग मौके पर पहुंचकर भोला यादव को उठाकर अस्पताल में भर्ती कराया। यहां पर डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

मौत की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। जिला प्रशासन की ओर से लोगों से अपील की जाती है कि आकाशीय बिजली की वक्त लोग किसी पेड़ के नीचे नहीं खड़ा हो, लेकिन इस जागरूकता अभियान के बावजूद भी लोगों में जागरूकता की काफी कमी है। आलम यह है कि इस तरह की घटना अक्सर जिले में देखने को मिलती है। जब भी आकाशीय बिजली से किसी की मौत होती है। तो कारण पेड़ के नीचे छुपने का ही होता है।


Find Us on Facebook

Trending News