कौन है रत्ना चटर्जी....मंत्री जनक राम के PS से 'महिला' का क्या है कनेक्शन? SVU की रेड में 30 लाख नकद,सोने का बिस्किट बरामद

कौन है रत्ना चटर्जी....मंत्री जनक राम के PS से 'महिला' का क्या है कनेक्शन? SVU की रेड में 30 लाख नकद,सोने का बिस्किट बरामद

PATNA: नीतीश कैबिनेट के खनन मंत्री जनक राम के सरकारी आप्त सचिव के ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। इसके पहले मंत्री के ही निजी सचिव को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। अब सरकारी आप्त सचिव व उनके महिला मित्र समेत तीन लोगों को स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने निशाने पर लिया है। पटना से लेकर अररिया तक एसवीयू की छापेमारी चल रही है। सबसे खास बात तो यह कि एक महिला रत्ना चटर्जी के ठिकानों पर भी एसवीयू की रेड हुई है। छापेमारी में तीस लाख रू बरामद भी किये गये हैं। आखिर ये रत्ना चटर्जी कौन है? इसका मंत्री के पीएस से क्या कनेक्शन है।

कौन है रत्ना चटर्जी 

कटिहार में विशेष निगरानी इकाई की टीम एक महिला रत्ना चटर्जी के आवास पर भी छापेमारी कर रही है। एसवीयू ने मंत्री के पीएस मृत्युंजय कुमार के साथ-साथ धनंजय कुमार व इस महिला के खिलाफ भी भ्रष्टाचार से संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया है। इसके बाद आज शुक्रवार सुबह-सुबह छापेमारी हुई। महिला के बारे में बताया जा रहा है कि वह मंत्री जनक राम के पीएस मृत्युंजय कुमार की दोस्त है। महिला के यहां मृत्युंजय का आना-जाना होता था। महिला पहले सीडीपीओ थी। लेकिन 2011 में विजिलेंस ने रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था। आरोप प्रमाणित होने पर सरकार ने रत्ना चटर्जी को बर्खास्त कर दिया था। 

तीस लाख नकद सोने के बिस्किट बरामद

एक बड़ी चर्चा यह भी है रत्ना चटर्जी खनन विभाग के मंत्री के पीएस मृत्युंजय कुमार की मित्र है और उनका कई आलमीरा भी इसी आवास में था. विशेष निगरानी डीएसपी चंद्र भूषण ने मामले की प्रारंभिक पुष्टि करते हुए कहा कि उनके आवास से 30 लाख नगद, 50 लाख से अधिक जेवर, कई सोने की बिस्किट और कई कागजात बरामद किये गये हैं।

अब मंत्री जनक राम का सरकारी निजी सचिव लपेटे में

एसवीयू खनन विभाग के जिस ओएसडी के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है वह खनन मंत्री जनक  राम का सरकारी आप्त सचिव हैं। जनक राम की अनुशंसा पर 26 फऱवरी 2021 से ही मृत्युंजय कुमार को सरकारी आप्त सचिव नियुक्त किया गया था। कैबिनेट सचिवालय की तरफ से मंत्री जनक राम की अनुशंसा पर मृत्युंजय कुमार को पीएस नियुक्त करने करने की अधिसूचना 24 मार्च 2021 को जारी की गई थी। 

विशेष निगरानी इकाई की टीम मंत्री जनक राम के ओएसडी(पीएस) मृत्युंजय कुमार के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। विशेष निगरानी इकाई ने मृत्युंजय कुमार के साथ एक महिला रत्ना चटर्जी जो मित्र बताई जाती है एवं धनंजय कुमार के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। जांच एजेंसी ने 25 नवंबर को ही इन तीनों के खिलाफ केस दर्ज किया। इसके बाद 26 तारीख को कोर्ट से सर्च वारंट लेने के बाद विशेष निगरानी इकाई की टीम आज सुबह से ही छापेमारी कर रही है। अररिया स्थित महिला रत्ना चटर्जी के ठिकानों पर छापेमारी में तीस लाख नकद रुपए बरामद हो चुके हैं।

फर्जीवाड़े में मंत्री के निजी सचिव भी हो चुके हैं गिरफ्तार 

बता दें, अक्टूवर महीने में ही खान और भूतत्व मंत्री जनक राम के पर्सनल सेक्रेटरी यानी आप्त सचिव बबलू आर्य को गिरफ्तार किया गया था। बबलू आर्य की निशानदेही पर दिल्ली पुलिस ने गोपालगंज नगर थाना के पुरानी चौक निवासी महेश कुमार को भी गिरफ्तार किया था। मंत्री के निजी सचिव बबलू आर्य पर संसद भवन में एंट्री के लिए फर्जी पास बनवाने का आरोप था।

Find Us on Facebook

Trending News