सीएम नीतीश के रहे सबसे खास मित्र ने क्यों कहा – विपक्षी एकता का नीतीश का सपना नहीं होगा पूरा

सीएम नीतीश के रहे सबसे खास मित्र ने क्यों कहा – विपक्षी एकता का नीतीश का सपना नहीं होगा पूरा

पटना. विपक्षी एकता के लिए दिल्ली में विभिन्न दलों के नेताओं से मुलाकात कर रहे नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए सुशील मोदी ने कहा है कि नीतीश का सपना साकार नहीं होगा. लम्बे अरसे तक नीतीश के खास मित्रों में शामिल रहे सुशील मोदी का मंगलवार को बयान सामने आया. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहली बार दिल्ली दौरे पर हैं, जहां पर उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, भाकपा महासचिव डी राजा, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की और अभी समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव समेत कई और नेताओं से मिलने वाले हैं. 

ऐसे में नीतीश कुमार के कभी मित्र रहे भाजपा सांसद सुशील मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार लाख प्रयास कर लें लेकिन वे लोगों को एक नहीं कर पाएंगे.  भाजपा के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि अधिकांश राज्य में हमारी सरकार है, प्रधानमंत्री की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है. ये लाख प्रयास कर लें लेकिन लोगों को एक नहीं कर पाएंगे. मीडिया में बने रहने के लिए ये राजनीतिक पर्यटन पर निकले हैं.

नीतीश कुमार ने भी कहा कि हम सब साथ हैं. डी राजा के साथ मिलकर भविष्य की राजनीति पर चर्चा हुई. सीएम नीतीश कुमार से जब पूछा गया कि क्या वे बिहार मॉडल को पूरे देश में लागू करेंगे? उन्होंने कहा, बिहार मॉडल क्या है? हम देश का मॉडल बनाने के लिए काम कर रहे हैं. 

इसके पहले उन्होंने माकपा नेता सीताराम येचुरी से मुलाकात की. येचुरी ने कहा कि हम स्वागत करते हैं कि नीतीश कुमार एक बार फिर इस कार्यालय में आए. यह देश की राजनीति के लिए सकारात्मक संकेत है. विपक्षी दलों को देश और संविधान को एक साथ बचाना है. उन्होंने नीतीश कुमार की पहल स्वागत किया. विपक्षी एकता को मौजूदा दौर एकजुट करना समय की मांग है. वहीं नीतीश ने केजरीवाल से मुलाकात कर उन्हें विपक्षी एकता को मजबूत करने के लिए साथ आने का आग्रह किया. 


Find Us on Facebook

Trending News