पेट्रोल-डीजल पर टैक्स कम करने की पीएम मोदी की अपील क्यों नहीं मानते नीतीश कुमार और शिवराज

पेट्रोल-डीजल पर टैक्स कम करने की पीएम मोदी की अपील क्यों नहीं मानते नीतीश कुमार और शिवराज

पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी राज्यों से पेट्रोल और डीजल पर टैक्स कम करने की अपील की है. इस दौरान पीएम मोदी ने कुछ गैर भाजपा और एनडीए शासित राज्यों का नाम लेकर उन राज्यों में तेल की कीमत ज्यादा होने की बात कही. लेकिन पीएम मोदी की अपील से भाजपा शासित राज्य भी बेखबर हैं. बिहार और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में पेट्रोल-डीजल की कीमत गैरभाजपा शासित राज्य से ज्यादा है. 

दरअसल, कोरोना की चौथी लहर की आशंका के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये मीटिंग की. इस दौरान उन्होंने देश में पेट्रोल-डीजल की बढती कीमतों पर चिंता जताई. खासकर उन्होंने गैर भाजपा और एनडीए शासित राज्यों का नाम लेकर कहा कि इन राज्यों में तेल की कीमतें ज्यादा हैं.

जैसे पटना में पेट्रोल की कमीत 116 रुपए से ज्यादा है. वहीं भोपाल में पेट्रोल की कीमत 118 रुपए प्रति लीटर से ज्यादा है. इन दोनों राज्यों में एनडीए की सरकार है. वहीं गैर भाजपा शासित राज्यों में झारखंड के रांची में 109 रुपए प्रति लीटर, केरल में कन्नूर में 115 रुपए, छतीसगढ़ के रायपुर में 111 रुपए प्रति लीटर है. इसी तरह तमिलनाडु के चेन्नई में 110 रुपए प्रति लीटर है. ऐसे कई अन्य राज्य भी हैं जहां गैर भाजपा सरकार है और वहां तेल की कीमत में भाजपा शासित राज्य से मामूली अंतर से कमी है या समान है. ऐसे में पीएम मोदी की अपील का बिहार में नीतीश कुमार और मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान पर कितना असर होता है यह बेहद अहम होगा. 

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा, पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमत का बोझ कम करने के लिए केंद्र सरकार ने एक्साइज ड्यूटी में पिछले नवंबर में कमी की थी. राज्यों से भी आग्रह किया गया था कि वो अपने यहां टैक्स कम करें. कुछ राज्यों ने तो अपने यहां टैक्स कम कर दिया, लेकिन कुछ राज्यों ने अपने लोगों को इसका लाभ नहीं दिया गया. 

उन्होंने कुछ राज्यों का नाम लेकर कहा कि महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल, झारखंड, तमिलनाडु ने किसी न किसी कारण से केंद्र सरकार की बातों को नहीं माना और उन राज्य के नागरिकों पर बोझ पड़ता रहा. मेरी प्रार्थना है कि नंवबर में जो करना था, अब वैट कम करके आप नागरिकों को इसका लाभ पहुंचाएं. देशभर में बीते 22 दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है. भारतीय तेल विपणन कंपनियों ने 6 अप्रैल के बाद से ईंधन के दाम नहीं बढ़ाए है.   


Find Us on Facebook

Trending News