पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की कराई हत्या, पुलिस ने पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार

पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की कराई हत्या, पुलिस ने पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार

PURNEA : नाजायज संबंध के चक्कर में पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को रास्ते से हटाने की योजना बनाई थी। घटना को अंजाम भी दिया। लेकिन कहते हैं कानून के हाथ लंबे होते हैं। लिहाजा 54 दिनों के बाद इस मामले का खुलासा हुआ। मरंगा के नजदीक सत्संग विहार के पास दवा व्यवसायी मोहन चंद्र दास हत्याकांड का पुलिस ने सफल उदभेदन किया। 

बताते चलें की बदमाशों ने 31 दिसंबर 2021 को दवा दुकानदार मोहन चन्द्र दास की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड में पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। अपराधियों के पास से 9 मोबाइल फोन, तीन मोटरसाइकिल और 54000 नगद रुपए बरामद किया गया। एसडीपीओ सुरेंद्र कुमार सरोज ने मरंगा थाने में घटना की पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मृतक की पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर योजना बनाते हुए घटना को अंजाम दिया। इसके लिए सुपारी किलर को पांच लाख रुपया देने की बात भी सामने आई। पुलिस ने वैज्ञानिक अनुसंधान और साक्ष्य संकलन के आधार पर कार्रवाई की। 

इस घटना के मास्टरमाइंड आयुष कुमार को उसके परोरा स्थित घर से और आयुष की प्रेमिका तथा मृतक की पत्नी चुमकी दास को सत्संग विहार स्थित मृतक के घर से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अपराधियों में नगर थाना के परोरा निवासी शंभु कुमार साह के पुत्र आयुष उर्फ सौरभ, संजय राय के पुत्र गौरव कुमार, श्रवण पंडित का बेटा रमन कुमार, कैलाश सिंह का बेटा मनीष कुमार और मरंगा वार्ड नंबर 9 सत्संग विहार निवासी मृतक मोहन चंद्र दास की पत्नी चुमकी दास शामिल है। बताया जा रहा है कि घटना के मास्टरमाइंड आयुष और मृतक की पत्नी चुमकी के बीच चार साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेम के किस्से की भनक पति मोहन चंद्र दास को जैसे ही मालूम हुआ कि वह पत्नी को मारना पीटना शुरू कर दिया। साथ ही पत्नी का मोबाइल फोन छीन जब्त कर लिया। इससे गुस्साए पत्नी चुमकी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मरवाने की योजना बनाई थी। सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

पूर्णिया से तहजीब की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News