पटना एम्स में कार्यरत लैब टेक्नीशियन की पत्नी ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी, परिजनों ने दहेज़ के लिए हत्या का लगाया आरोप

पटना एम्स में कार्यरत लैब टेक्नीशियन की पत्नी ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी, परिजनों ने दहेज़ के लिए हत्या का लगाया आरोप

AURANGABAD : जिले के ओबरा थाना क्षेत्र के तारा गांव में फांसी लगाकर एक विवाहिता के आत्महत्या किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले को मृतका के मायके वालों ने दहेज को लेकर की गई हत्या का मामला बताया है। पुलिस को लिखित आवेदन देने के बाद विवाहिता के ससुराल वाले फरार हैं। मृतका की पहचान तारा के ही कृष्णकांत सिंह की पत्नी तारा देवी के रूप में की गई है। उसका मायका गया जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के मानपुर स्थित श्याम कॉलोनी में है। 

औरंगाबाद सदर अस्पताल में अपनी बेटी के शव का पोस्टमार्टम कराने आए मृतका के पिता शिवदयाल सिंह ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी की शादी उसके एमबीए फाइनल करने के बाद वर्ष 2021 के अप्रैल माह में किया था। इसी वर्ष लड़के वालों ने कहीं जमीन का प्लॉट खरीदा था और उसी को लेकर लगातार 5 लाख की डिमांड की जाने लगी। पैसे नही देने के कारण ससुराल वालों का जुल्म बढ़ता गया। बेटी की सलामती देखते हुए कुछ राशि का भुगतान किया भी किया। इसके बावजूद उन लोगों की प्रताड़ना बढ़ती गई। 

बेटी के एमबीए होने के कारण नौकरी कर पैसे लाने का दबाव बनाया जाने लगा। मृतका के पिता ने बताया कि दामाद कृष्णकांत सिंह पटना के एम्स में लैब टेक्नीशियन के पद पर कार्यरत है। वह तारा के साथ पटना में ही किराए का रूम लेकर रहता था। कुछ दिनों से ऐसा लग रहा था कि सबकुछ ठीक है लेकिन अचानक सोमवार की सुबह साढ़े आठ बजे दामाद का फोन आया कि रविवार की रात तारा ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। 

सूचना मिलते ही सभी लोग तारा गांव पहुंचे। इसके बाद लोगों ने ओबरा थाना की पुलिस को सूचना दी। पुलिस सदल बल घटनास्थल पर पहुंची। इसके पहले ही ससुरालवालें फरार हो गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कागजी प्रक्रिया पूरी कर पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद सदर अस्पताल लाया है।

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News