CM नीतीश महिला कुमुद वर्मा को दिलायेंगे इंसाफ? JDU विधायक रिंकू सिंह पर पूर्व जिला पार्षद मर्डर का आरोप, पत्नी ने आज CM के दरबार में लगाई न्याय गुहार

CM नीतीश महिला कुमुद वर्मा को दिलायेंगे इंसाफ? JDU विधायक रिंकू सिंह पर पूर्व जिला पार्षद मर्डर का आरोप, पत्नी ने आज CM के दरबार में लगाई न्याय गुहार

PATNA: पूर्व जिला पार्षद दया वर्मा की हत्या के 8 महीने बीत गये। पत्नी कुमुद वर्मा हत्या में शामिल सत्ताधारी विधायक धीरेंद्र प्रताप उर्फ रिंकू सिंह पर कार्रवाई को लेकर दर-दर की ठोकरें खा रही है। पीड़िता न्याय की गुहार लगाने आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार पहुंची। कुमुद वर्मा ने सीएम नीतीश से पूरी बात बताई । इसके बाद मुख्यमंत्री ने महिला को डीजीपी के पास भेज दिया। 

सीएम नीतीश करेंगे न्याय?

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में जेडीयू विधायक की शिकायत लेकर पीड़ित महिला पहुंची। वाल्मीकिनगर से आई पीड़ित महिला कुमुद वर्मा का आरोप था कि वाल्मीकि नगर के जेडीयू विधायक रिंकू सिंह ने उनके पति दया वर्मा की हत्या करवा दी। फऱवरी महीने में ही उनके पति की हत्या हुई थी। इस मामले में स्थानीय विधायक रिंकू सिंह को आरोपित किया गया था। लेकिन पुलिस ने विधायक पर कोई कार्रवाई नहीं की। पुलिस सत्ताधारी विधायक के दबाव में काम कर रही है। शिकायत सुनने के बाद मुख्यमंत्री ने फिर से पीड़ित महिला को डीजीपी के पास भेज दिया। हालांकि पीड़िता को सत्ताधारी जेडीयू विधायक पर कार्रवाई होगी इसकी संभावना कम ही दिख रही है। 


फरवरी 2021 में दया वर्मा की हुई थी हत्या 

बता दें, बगहा पुलिस जिले के नौरंगिया थाना क्षेत्र में फरवरी 2021 में  पूर्व जिला पार्षद दया वर्मा की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में वाल्मीकिनगर के जदयू विधायक धीरेंद्र प्रताप उर्फ रिंकू सिंह, शकील और बबलू के अलावा अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। प्राथमिकी में कुमुद वर्मा ने आरोप लगाया था कि वाल्मीकिनगर के ठेकेदार मोहम्मद शकील और बबलू जायसवाल समेत अन्य अज्ञात लोगों को लेकर विधायक रविवार की शाम बगहा-वाल्मीकिनगर मुख्य पथ के सिरसिया चौक पर आ धमके. वहां मौजूद मेरे पति पूर्व जिला पार्षद दया वर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. 

इस मामले में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी तो हुई लेकिन जेडीयू विधायक की गिरफ्तारी नहीं हुई। पीड़त महिला कुमुद वर्मा ने विधायक पर कार्रवाई को लेकर लगातार आवाज उठाती रही। लेकिन पुलिस जांच की बात करती रही। बताया जाता है कि बिहार की पुलिस ने जांच में जेडीयू विधायक को क्लीन चिट दे दी है। अब पीड़ित महिला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में पहुंच न्याय की गुहार लगाई है। सीएम नीतीश ने महिला की शिकायत सुन डीजीपी के पास भेज दिया। 

Find Us on Facebook

Trending News