जश्न में गई जानः 'मंत्री' बनने से पहले गांव में शराब कांड ! RJD विधायक जितेन्द्र राय के गांव में जहरीली शराब से 5 की मौत, शराब सप्लायर के घऱ पर RJD का पोस्टर

जश्न में गई जानः 'मंत्री' बनने से पहले गांव में शराब कांड ! RJD विधायक जितेन्द्र राय के गांव में जहरीली शराब से 5 की मौत, शराब सप्लायर के घऱ पर RJD का पोस्टर

PATNA: नीतीश कुमार अब महागठबंधन के चेहरा बन गये हैं। राजद के सहयोग से नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री बने हैं। नीतीश कुमार के शराबबंदी वाले बिहार में एक बार फिर से जहरीली शराब ने कहर बरपाया है. छपरा में शराब पीने से पिछले 24 घंटे में 5 लोगों की संदिग्‍ध मोत होने का मामला सामने आया है. शराब पीने से 2 लोग गंभीर रूप से बीमार पड़ गए हैं, जिनका इलाज सदर अस्‍पताल में चल रहा है. जहरीली शराब कांड की यह घटना मढ़ौरा के राजद विधायक जितेंद्र राय के पैतृक भुआलपुर में हुई है। कहा जा रहा है कि विधायक के गांव में शराब पार्टी चल रही थी। इलाके में यह चर्चा तेजी से फैली है कि स्थानीय विधायक मंत्री बनने की रेस में हैं. समर्थकों को इस बार पूरा भरोसा है कि विधायक जितेन्द्र राय को नीतीश कैबिनेट में मंत्री बनाया जा रहा है।गॉव के लोगों को एक ही जगह से शराब लाकर पिलाई गयी। इस तरह से नीतीश कुमार के शराबबंदी अभियान को राजद विधायक के गांव में ही माखौल उड़ाया जा रहा।  

राजद विधायक के गांव में शराब कांड, शराब सप्लाई करने वाला राजद कार्यकर्ता

राजद के विधायक जितेन्द्र राय के गांव भुआलपुर में शराब की पार्टी चल रही थी। उसी पार्टी में शराब ने पांच जान लील ली। कहा जाता है कि शराब की पार्टी खास खुशी को लेकर हो रही थी।आखिर वो कौन सी खुशी थी जिस वजह से शराब का उत्सव चल रहा था,इस पर कई तरह की बातें सामने आ रही है। इलाके में एक खबर बड़ी तेजी से फैली है कि राजद विधायक के गांव में समर्थकों द्वारा मंत्रिमंडल विस्तार से पूर्व शराब का सेवन कराया जा रहा था। राजनीतिक गलियारे में चर्चा है कि नीतीश कुमार की नई सरकार में मढ़ौरा से राजद विधायक जितेन्द्र राय जो इसी गांव के हैं, उनके मंत्री बनने की पूरी संभावना है। यह बात उनके गांव तक पहुंच गई। लिहाजा समर्थकों के द्वारा शराब पार्टी दिया गया था।इस तरह से जहरीली शराब पीकर पांच लोगों की जान चली गई। 

शराब सप्लायर के घर पर राजद का स्टिकर 

राजद विधायक के गांव में जहरीली शराब से पांच लोगों की मौत के बाद कोहराम मच गया है। शराब कांड की मुख्य आरोपी उर्मिला देवी बताई जाती है। बताया जाता है कि शराब इसी ने सप्लाई किया था। जहरीली शराब से पांच लोगों की मौत के बाद वह फरार हो गई है। इधर, पुलिस ने उसके घर को सील कर दिया है। शराब सप्लाई करने वाली महिला के दरवाजे पर राजद का स्टिकर साटा गया गया था। 2020 चुनाव के समय की तेजस्वी यादव की तसवीर वाला स्टिकर साटा हुआ मिला है। 

मृतकों के परिजनों ने शराब पीने की पुष्टि की है. इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. शराब पीने से मौत का यह मामला गरखा थाना क्षेत्र के भुआलपुर गांव की बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि गुरुवार को मुचकनपुर के पास अवैध शराब बेचने वाले से दारू खरीदी गई थी. शराब का सेवन करते ही एक-एक कर सबकी तबीयत बिगड़ गई. पिछले 24 घंटे में जहरीली शराब का सेवन करने वाले 5 लोगों की मौत हो गई. एक ही गांव में 5 लोगों की मौत के बाद स्‍थानीय प्रशासन हरकत में आया. 

जो पीयेगा सो मरेगा 

इधर, CM नीतीश कुमार ने कहा कि हम तो पहले से कहते रहे हैं कि शराब बुरी चीज है। जो पिएगा, वो देख ले कि क्या हाल होता है। उन्होंने कहा कि जो पियेगा वो मरेगा।






Find Us on Facebook

Trending News