कोरोना का टीका लेने अस्पताल गई महिला की हुई मौत, परिजनों ने जमकर काटा बवाल, दो दिन बाद है बेटी शादी

कोरोना का टीका लेने अस्पताल गई महिला की हुई मौत, परिजनों ने जमकर काटा बवाल, दो दिन बाद है बेटी शादी

AURANGABAD : ओबरा प्रखंड के खुदवां थाना के भदुआ निवासी जितेंद्र सिंह के घर दो दिन बाद बेटी की शादी की शहनाई गुंजने वाली थी। इधर बेटी की मां रिंकू देवी की मौत हो गयी। घटना के संबंध में बताया जा रहा है की रिंकू देवी कोरोना टीका का दूसरा डोज लेने औरंगाबाद सदर अस्पताल आई थी। टीका भी लिया, लेकिन टीका लेकर चार कदम चलते ही वह गिर पड़ी और डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद महिला के परिजन आक्रोशित हो गए और डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए तोड़फोड़ किया। साथ ही अस्पताल के डॉक्टरों को एक-एक कर पीटना शुरू किया। अस्पताल के डॉक्टर अमृत कुमार और उपाधीक्षक डॉ. विकास कुमार परिजनों के हाथ लग गए औऱ बुरी तरह पीट गये। दोनों को परिजनों ने दौड़ा दौड़ाकर बेरहमी से पीटा। दोनों ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई। इस दौरान सदर अस्पताल परिसर जंग का मैदान बन गया और भारी संख्या में पुलिस के मौके पर आने के बाद स्थिति काबू में आई।

वही सदर अस्पताल के चिकित्सकों ने भी स्वीकार किया कि कोरोना टीका लेने के बाद महिला की मौत हुई है। इसकी वजह दिल का दौरा पड़ना है। लेकिन पूरी बात पोस्टमार्टम से ही सामने आएगी। उन्होंने यह भी स्वीकार किया है कि परिजनों ने उन्हे पीटा भी है। 

गौरतलब है कि औरंगाबाद सदर अस्पताल के डॉक्टरों पर आये दिन लापरवाही के आरोप लग रहे है। अभी दो दिन पहले भी अस्पताल में एक महिला की मौत पर परिजनो ने तोड़फोड़ किया था और एक डॉक्टर की पिटाई भी की थी। अस्पताल में दो दिनों के अंतराल पर बवाल और डॉक्टरों की पिटाई की यह दूसरी घटना है।

औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News