एसएसपी के पास बेटे के साथ गुहार लगाने पहुंची महिला, ससुरालवालों पर दहेज़ के लिए प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

एसएसपी के पास बेटे के साथ गुहार लगाने पहुंची महिला, ससुरालवालों पर दहेज़ के लिए प्रताड़ित करने का लगाया आरोप

BHAGALPUR : एक तरफ बिहार सरकार पूरे राज्य में कड़ाई से दहेज प्रथा पर रोक लगाए जाने को लेकर कदम उठा रही है। वहीं दूसरी ओर दहेज लोभी लगातार दहेज के लिए बेटियों को प्रताड़ित कर रहे हैं। ताजा मामला भागलपुर के पीरपैंती थाना क्षेत्र के सलेमपुर में सामने आया है। जहां की नीतू देवी दहेज के लिए पति, सास ,ससुर और अपने ससुराल पक्ष के लोगों से प्रताड़ित और मारपीट से बुरी तरह घायल होकर न्याय की गुहार लगाने एसएसपी बाबूराम के पास पहुंची। रोती - बिलखती, लाचार महिला के साथ डेढ़ साल का बेटा भी था। पीड़िता ने गुहार लगाते हुए अपनी आपबीती एसएसपी से बताई। एसएसपी बाबुराम ने नजदीकी थाना में जल्द केस दर्ज कराने की बात कही। 

पीड़िता नीतू देवी ने बताया कि वह गरीब मजदूर पिता मनोज ठाकुर की बेटी है और उसकी शादी पूरे हिंदू रीति रिवाज से 21 दिसंबर 2019 को सलेमपुर निवासी जय कांत मिश्रा के पुत्र नीतीश कुमार के साथ हुई थी। शादी के 6 महीने तक उसे पति और पूरे ससुराल वालों का भरपूर साथ मिला। उसके बाद उसके पति, ससुर और सास के द्वारा दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा और समय-समय पर उसके साथ मारपीट की भी घटना को अंजाम दिया जा रहा था।

2 दिन पूर्व  उसके सास, ससुर और पति ने दहेज की मांग को लेकर उसकी जमकर पिटाई कर दी। जिसका वीडियो भी इन दिनों सोशल मीडिया में काफी तेजी से वायरल हो रहा है। मारपीट में बुरी तरह जख्मी नीतू को स्थानीय लोगों ने भागलपुर के मायागंज अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया। जिसके बाद आज महिला इंसाफ की गुहार लगाने सीनियर एसपी के पास पहुंची। जिस तरह से लगातार जिले में दहेज को लेकर महिलाओं को प्रताड़ित किया जा रहा है। उससे राज्य सरकार के द्वारा लागू दहेज प्रथा उन्मूलन पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

भागलपुर से बालमुकुंद कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News