गजब : NRC लिस्ट से पूर्व राष्ट्रपति के परिवार का नाम गायब, भतीजे ने कहा प्रक्रिया के तहत कानून की लेंगे मदद

गजब : NRC लिस्ट से पूर्व राष्ट्रपति के परिवार का नाम गायब, भतीजे ने कहा प्रक्रिया के तहत कानून की लेंगे मदद

NEWS4NATION DESK : 31 अगस्त को असम में एनआरसी यानी नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन की फाइनल लिस्ट जारी कर दी गई। इस लिस्ट में 19 लाख 6 हजार 657 लोगों का नाम लिस्ट में नहीं शामिल नहीं हुए। सबसे हैरानी की बात यह है कि जिन लोगों के नाम लिस्ट में शामिल नहीं किए गए है उनमें देश के पूर्व राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद  के परिवार भी नाम शामिल है। अब पूर्व राष्ट्रपति के परिवार ने इस मामले पर कानूनी मदद लेने का फैसला किया है। 

दरअसल, पूर्व राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद पांच भाई और पांच बहन थे। उनके एक भाई इकरामुद्दीन असम में ही रहते थे। उनके इसी भाई के बेटे यानी फखरुद्दीन के भतीजे जियादुद्दीन के पूरे परिवार का नाम एनआरसी लिस्ट में शामिल नहीं है। 

जियाउद्दीन अपनी पत्नी अकीमा बेगम और दो बेटों साजिद और वाजिद के साथ असम में ही रहते हैं। जियाउद्दीन का जन्म भी यहीं हुआ और उनके बेटों का भी। सबके पास वोटर कार्ड हैं। पूर्व राष्ट्रपति का पूरा परिवार अब चिंतित है कि उनका क्या होगा।

इस पूरे मामले पर पूर्व राष्ट्रपति के भतीजे अहमद ने कहा कि एनआरसी की लिस्ट में हमारे परिवार के 4 सदस्यों के नाम नहीं हैं। हम 7 सितंबर के बाद अथॉरिटी के पास जाएंगे और लिस्ट में नाम शामिल कराने के लिए आगे की प्रक्रिया का पालन करेंगे।

बता दें कि फखरुद्दीन अली अहमद के परिवार का नाम एनआरसी के फाइनल ड्राफ्ट में भी नहीं था। फाइनल ड्राफ्ट में नाम ना होने पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने हैरानी जताई थी। उन्होंने कहा था कि एनआरसी में वास्तविक भारतीयों को भी शामिल नहीं किया गया है। 

Find Us on Facebook

Trending News