वाह रे जनता राज ! RJD विधायक के करीबी के 'आतंक' से त्राहिमाम कर रहा सुशासन, गोली मारने से नहीं करता है गुरेज..मां की सूनी कर दी गोद

वाह रे जनता राज ! RJD विधायक के करीबी के 'आतंक' से त्राहिमाम कर रहा सुशासन, गोली मारने से नहीं करता है गुरेज..मां की सूनी कर दी गोद

PATNA: नीतीश कुमार का दावा है कि बिहार में जनता राज है।लेकिन इस राज में न पुलिस सुरक्षित है और न आम जनता। सत्ता में बैठे लोगों के शार्गिदों के द्वारा अब सड़कों पर खुलेआम तांडव मचाना शुरू कर दिया गया है. बानगी चार दिन पहले दिखी जब राजद विधायक अजय यादव के करीबी बैजू यादव ने प्राईवेट कंपनी में काम कर मां-बाप का भरण-पोषण करने वाले एक नौजवान को गोलियों से भून दिया था। चार दिनों तक जिंदगी और मौत से जुझते नौजवान ने आज पटना में दम तोड़ दिया। सुशासन में इस तरह की हैवानियत का सिलसिला आम हो चुका है। 

राजद विधायक प्रतिनिधि की गुंडागर्दी

मामला गया जिले के अतरी थाना क्षेत्र का है। जहां सारसू पिच फैक्ट्री के पास एकलव्य कंपनी में ऑपरेटर के पद पर कार्यरत्त 23 वर्षीय युवक विकास कुमार को चार पहिये वाहन पर सवार होकर आये गुंडों ने गोली मार दी। आनन-फानन में उसे पटना लाया गया,जहां आज उसकी मौत हो गई। गौरतलब है कि उक्त युवक ने दबंगों के द्वारा अवैध तरीके से बालू का चालान देने पर मना कर दिया था। बस क्या था....गुंडों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गंभीर स्थिति में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। अतरी थाने में दर्ज केस के मुताबिक बैजु यादव ने गोली मारी,वहीं कान्धो यादव और गोरे यादव ने मृत युवक का हाथ पकड़े रहा। इस तरह से उसे पकड़कर गोली मारी गई। 

कौन है बैजू यादव?

बैजू यादव के बारे में कहा जाता है कि वह का गुंडा है। उस पर पहले से ही अतरी थाने में कई केस दर्ज हैं. इसके बाद भी व थाने में आते-जाते रहता है। वह राजद से जुड़ा हुआ है। बताया जाता है कि वह अतरी से राजद विधायक अजय यादव का प्रतिनिधि है। गुंडा बैजू यादव का तेजस्वी यादव,लालू यादव समेत कई अन्य नेताओं के साथ तस्वीर है। राबड़ी आवास जाकर उसने लालू प्रसाद के साथ तस्वीर खिंचवा चुका है।

जानें मामला 

 बताया जाता है कि अतरी प्रखंड के ढाढर नदी से बालू का अवैध कारोबार हो रहा है. घटना में शामिल आरोपी बैजू यादव भी अपने शार्गिदों के साथ  बालू के अवैध खनन में शामिल था. नदी से बालू उठाकर लोकल स्तर पर बेचा जाता है. स्थानीय पुलिस की मिलीभगत से बालू लदे ट्रैक्टर को पकड़ा भी नहीं जाता था. दूसरे इलाके में चोरी का बालू भेजे जाने पर चालान की जरूरत होती थी .पूर्व मंत्री राजबल्लभ यादव के रिश्तेदार की एकलव्य कंपनी द्वारा प्रखंड क्षेत्र में बालू का ठेका लिया गया था .आरोपी बैजू यादव अपने अपराधिक गतिविधियों के बल पर इस कंपनी से अवैध रूप से चालान ले लेता था और खुलेआम बालू का अवैध कारोबार करता था। वह युवक जब चालान देने से इनकार किया तो गोली मार दी। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी बैजू यादव की गाड़ी को पुलिस ने जब्त कर लिया है। वहीं आरोपी फरार है। अतरी थानेदार ने बताया कि इस मामले में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

Find Us on Facebook

Trending News