विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार का बड़ा दांव, 28 लाख सरकारी कर्मचारियों-पेंशनरों को दिवाली पर बोनस, पेट्रोल-डीजल भी हो सकता है सस्ता

विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार का बड़ा दांव, 28 लाख सरकारी कर्मचारियों-पेंशनरों को दिवाली पर बोनस, पेट्रोल-डीजल भी हो सकता है सस्ता

Desk. उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारी शुरू हो गयी है. चुनाव को देखते हुए योगी सरकार ने 28 लाख सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को दिलावी पर बोनस देने की घोषना की है. यूपी के वित्त विभाग ने बोनस का प्रस्ताव तैयार कर सीएम योगी आदित्यनाथ को भेजा था. जिस पर सीएम ने आज अपनी सहमति दे दी है. इसका लाभ यूपी के 28 लाख कर्मियों और पेंशनरों को मिलेगा.

बता दें कि वित्त विभाग ने अराजपत्रित कर्मचारियों को एक महीने का तदर्थ बोनस देने का प्रस्ताव बनाया था, जिसे योगी सरकार ने समहति दे दी है. इस बोनस के तहत पूर्व की तरह बोनस का 25 प्रतिशत हिस्सा नगद और 75 प्रतिशत धनराशि जीपीएफ में भेजने का प्रस्ताव शामिल हैं. तदर्थ बोनस की अधिकतम सीमा 7 हजार रुपए हैं. यानी 30 दिन का बोनस 6,908 रुपए मिल सकता है. यदि कर्मचारियों को 25 प्रतिशत ही नगद भुगतान किया गया तो बोनस के 6908 रुपये में से 1727 रुपये ही हाथ में आएंगे. ग्रेड पे 4800 रुपये तक के 12 लाख से अधिक राजपत्रित कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा.

वहीं बताया जा रहा है कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले पेट्रोल और डीजल सस्ता हो सकता है. वैट को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शाम बड़ी बैठक बुलाई है. इस बैठक में वैट कम करते हुए पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों में राहत देने पर फैसला हो सकता है. बताया जा रहा है कि बैठक में मंथन होगा कि यूपी सरकार अपने स्‍तर से पेट्रोल-डीजल के दामों में कितनी राहत दे सकती है. इस समय प्रदेश में पेट्रोल 100 से पार और डीजल भी शतक लगाने के करीब है. अगर सरकार वैट की दर में कटौती करती है तो कुछ राहत जरूर मिल सकती है.

Find Us on Facebook

Trending News