बांका में छठ के दौरान पोखर में डूबने से युवक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

बांका में छठ के दौरान पोखर में डूबने से युवक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

BANKA : नगर पंचायत क्षेत्र के महमदपुर गांव स्थित फुलवासा पोखर में डूबने से एक युवक की मौत हो गई। मृतक शुक्कर दास उर्फ रूपेश (20वर्ष) था, जो महमदपुर गांव निवासी छोटे लाल दास का पुत्र बताया जा रहा है। घटना रविवार की शाम की है। लेकिन स्थानीय प्रशासन को सूचना के बाद संवेदनहीन बने रहने पर पूर्व पैक्स अध्यक्ष संतोष कुमार झा ने गांव के कुछ युवक को तैयार कर काफी मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला। पोखर से शव निकलने की सूचना पर सीओ वत्सांक कुमार, दारोगा पवन कुमार एवं चंचल कुमार पुलिस बल के साथ फुलवासा पोखर पहुंचे। जहां शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया। 


घटना के सम्बन्ध में परिजनों ने बताया कि रविवार को छठ पूजा का संध्या अर्घ्य देने शुक्कर दास के साथ पुरा परिवार गया था। शुक्कर दास स्नान करने फुलवासा पोखर में उतरा। जब काफी देर तक बाहर नहीं निकाला तो खोजबीन शुरू किया। घटना को लेकर सीओ वत्सांक कुमार एवं थाना को भी दिया। लेकिन पानी से शव बाहर निकालने की दिशा में किसी प्रकार की कारवाई नहीं की गई। सोमवार की सुबह सीओ से संपर्क कर पोखर से शव निकालने का गुहार लगाया। जिस पर बताया कि एसडीआरएफ की टीम बौंसी से आ रहा है। 

स्थानीय प्रशासन के इस उदासीन रवैये को देख गांव के ही संतोष झा ने ट्यूब मंगाकर गांव के ही पांच युवक को तैयार किया। जिसके बाद युवकों ने ट्युब के सहारे लगभग दो घंटे के अथक प्रयास के बाद शव को पानी से बाहर निकला। परिजनों ने स्थानीय प्रशासन के इस रवैये को लेकर आक्रोश व्यक्त करते हुए गंभीर आरोप भी लगाया है। ज्ञात हो कि नगर पंचायत द्वारा सभी छठ घाट पर गोताखोर एवं मेडिकल टीम की तैनाती को लेकर कहते नहीं थक रही थी। लेकिन जब घटना घट गई तो नपं प्रशासन के कुव्यवस्था की पोल खुल कर रह गई और शुक्कर दास का शव 16 घंटे तक पोखर के पानी में ही पड़ा रहा। 

फुलवासा पोखर पर छठ पूजा करने आये लोगों ने बताया कि पोखर के गहरे पानी में चले जाने के कारण ही शुक्कर की डुबकर मौत हो गई है। पोखर में पानी होने के बाद भी नपं द्वारा बैरेकेटिंग भी नहीं किया गया था। मृतक तीन भाई था। जो आइसक्रीम बेचकर परिवार का भरण-पोषण करता था। घटना के बाद मां सीता देवी एवं अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस ने बताया कि स्वजन के बयान पर केस दर्ज कर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया गया है।

बांका से चंद्रशेखर कुमार भगत की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News