इंटर परीक्षा में अपनाई जायेगी जीरो टॉलरेंस की नीति, परीक्षा के दौरान किसी प्रकार लापरवाही नहीं की जायेगी बर्दाश्त

इंटर परीक्षा में अपनाई जायेगी जीरो टॉलरेंस की नीति, परीक्षा के दौरान किसी प्रकार लापरवाही नहीं की जायेगी बर्दाश्त

PATNA : 6 फरवरी से इंटरमीडियट की वार्षिक परीक्षा शुरु होने जा रही है। परीक्षा को पूरी तरह से कदाचारमुक्त बनाने के लिए राज्य सरकार ने जीरो टॉलरेस की नीति अपनाने का फैसला किया है। 

आज बुधवार को शिक्षा विभाग के अपर सचिव आर. के . महाजन ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला पदाधिकारी और जिला कार्यक्रम पदाधिकारी के साथ वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। इस दौरान महाजन ने कहा कि इंटरमीडियट परीक्षा को पूरी तरह से कदाचारमुक्त बनाने के लिए सरकार की ओर से जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने का फैसला किया गया है और इसकी पूरी जिम्मेवारी आप सभी पर है। 

उन्होंने कहा कि परीक्षा के दौरान किसी प्रकार की कोई लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी। जो भी कर्मचारी या पदाधिकारी कदाचार लिप्त पाये जायेंगे उनपर सख्त कार्रवाई होगी। 

अपर सचिव ने कहा कि इस बार हर महिला परीक्षा केन्द्र पर महिला और पुरुष परीक्षा केन्द्र पर पुरुष वीक्षक की प्रतिनियुक्ति होगी। वहीं प्रत्येक जिले में 4-4 मॉडल परीक्षा केन्द्र बनाए जाए, जिसमें परीक्षार्थी से लेकर वीक्षक, पुलिस बल और प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट सभी महिलाएं हो। 

महाजन ने कहा कि परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्र के 200 मीटर के घेरे में किसी अनाधिकृत व्यक्ति का प्रवेश न हो। यदि कोई व्यक्ति 200 मीटर के घेरे के अंदर पाया जायेगा तो उसे गिरफ्तार कर कानूनी  कार्रवाई होगी। 

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News