12 साल पहले मामी से की थी शादी, अब उसी के अवैध संबंधों की 'सूली' चढ़ गया पति

12 साल पहले मामी से की थी शादी, अब उसी के अवैध संबंधों की 'सूली' चढ़ गया पति

नवगछिया  प्रखंड के झंडापुर पूरब पंचायत के अरसंडी गांव में 35वर्षीय छतीश यादव की गला दबाकर रविवार की देर रात हत्या कर दी गई। इस घटना की जानकारी मृतक की पत्नी मोनी देवी द्वारा सोमवार की सुबह रोने व चिल्लाने की अवाज पर पड़ोसियों व पूरे ग्रामीणों को हुई।लोगों की सूचना पर थानाध्यक्ष दल बल के साथ मौके पर पहुंचे।जहां शव बिस्तर पर पड़ा था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

मामी को बनाया था पत्नी

मामले में ग्रामीणों ने बताया कि मृतक छतीश का अरसंडी गांव में ननिहाल है। करीब12 वर्ष पूर्व इकलौते मामा दीपक उर्फ ढोरो यादव के निधन होने पर छतीश की शादी मामी मोनी से समाज के सहमति से हुई थी। छतीश के दो पुत्र है। जबकि मामा से भी एक पुत्र है, जो ननिहाल में ही रहता था। मोनी देवी का मायका खरीक के लोकमानपुर बहियार में है।छतीश दिल्ली में मजदूरी करता था। तीन दिन पूर्व ही दिल्ली से कमाकर लौटा था।

अवैध संबंध की बात भी आ रही सामने

यह बात भी कही जा रही है कि छतीश की पत्नी मोनी का पसराहा थानाक्षेत्र के बंदेराह रहने वाले सुबोध नाम के युवक से अवैध संबंध है। छतीश की अनुपस्थिति में वह अक्सर यहां आता था। मोनी देवी ने अपने प्रेमी से मिलकर छतीश की हत्या की घटना को अंजाम दिया है। छतीश का पैतृक घर मानसी के राेहिया गांव में है।

पत्नी और बच्चों के बयान में अंतर

मामले में पत्नी और बच्चों के बयान अलग अलग हैं।।   पत्नी का कहना है कि बच्चे बाहर व पति के साथ वह कमरे सोई थी। रात में बच्चे बाहर से अवाज देने लगे तो बाहर आई। फिर वह बकरी के मेमने को दूध पिलाने लगी। करीब आधे घंटे बाद कमरे में आई तो छतीश यादव कच्चे के घर के उपर बांस में फांसी लगने की हालत में टंगा था। उसने बदहवासी में फांसी लगे कपड़े को काटकर शव को नीचे लाया और बच्चों के सहयोग से बिस्तर पर रखा। वहीं मौके पर मौजूद मृतक के दोनो बच्चे करीब10 वर्षीय बोगो व आठ वर्षीय बोडिल ने बताया कि रात में दो लोग यहां आए थे। उसी ने मेरे पापा को मारा है। वहीं चर्चा है कि घर में ओखली वाले समाठ से पहले छतीश यादव की गला दबाकर हत्या कर दी गई। फिर इसे हडबड़ी में आत्महत्या दिखाने के लिए षडयंत्र किया गया है।

पत्नी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

घटना की सूचना मिलने पर मृतक छतीश की मां व भाई समेत अन्य जन अरसंडी पहुंचे। इधर पुलिस ने मोनी को अपने कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए अनुमंडलीय अस्पताल, नवगछिया भेज दिया। इधर घटना की जानकारी मिलने पर मृतक के घर के सामने लोगों का जमघट लगा हुआ था। उधर इस घटना को लेकर मृतक के भाई बलराम यादव द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।जिसमें मृतक की पत्नी मोनी देवी व पसराहा के बंदेराह निवासी सुबोध यादव को नामजद किया गया है। वहीं आरोपी पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।


Find Us on Facebook

Trending News