30 साल पुरानी दुश्मनी में 25 साल से काम कर रहे मुंशी को जिंदा जलाकर मार डाला, ईंट भट्ठे में मिली लाश

30 साल पुरानी दुश्मनी में 25 साल से काम कर रहे मुंशी को जिंदा जलाकर मार डाला, ईंट भट्ठे में मिली लाश

पूर्णिया। जिले के रघुवंश नगर ओपी का मोजम पट्टी गांव सोमवार की देर रात हत्या की खौफनाक वारदात से दहल उठा है। बताया गया कुख्यात बूचन यादव के मुंशी पप्पू सिंह की जिंदा जला कर निर्मम हत्या कर दी गई। बूचन यादव के गौरीपुर स्थित ईट भट्ठा से मुंशी पप्पू सिंह की जली हुई लाश बरामद की गई है। हत्या की वजह दो गुटों के बीच आपसी गैंगवार को बताया जा रहा है। 


मृतक मुंशी पप्पू सिंह उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के निवासी थे जो पिछले 25 साल से बूचन यादव के ईंट भट्ठे पर मुंशी का काम करते थे। कुख्यात बूचन यादव के रिश्तेदार निरंजन कुमार के मुताबिक मोजमपट्टी में पिछले तीन दशक से चल रहे गैंगवार के कारण ही मुंशी की जिंदा जलाकर हत्या की गई है। बूचन यादव के साढ़ू का कहना है कि मोजमपट्टी गांव में बूचन यादव और बालो यादव व अखिलेश यादव के बीच कई दशकों से गैंगवार हो रहा है जिसमें अब तक कई लोगों की जान जा चुकी है. सिर्फ जनवरी माह में चार लोगों की हत्या हो चुकी है. आरोप है कि विरोधी पक्ष के अखिलेश यादव और भूषण यादव ने ही जला कर पप्पू सिंह की हत्या की है। 


 इधर इस खौफनाक वारदात की खबर मिलते ही सूचना मिलते ही रघुवंश नगर थानाप्रभारी महादेव कामतबरहरा कोठी थाना प्रभारी सुनील कुमार और धमदाहा के एसडीपीओ समेत कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच में जुट गए।


बता दें कि जिले में हाल के दिनों में अपराध की घटनाएं बढ़ी है। पिछले एक सप्ताह में यहां एक कारोबारी और क्रिकेट संघ के उपाध्यक्ष की गोली मार कर हत्या कर दी गई है।



Find Us on Facebook

Trending News