बिहार के एक DSP 'शराब' की 208 बोतल दबाकर 6 सालों से मौज की कर रहे नौकरी,अब थानाध्यक्ष ने SDPO को भेजा पत्र

बिहार के एक DSP 'शराब' की 208 बोतल दबाकर 6 सालों से मौज की कर रहे नौकरी,अब थानाध्यक्ष ने SDPO को भेजा पत्र

PATNA: बिहार के एक डीएसपी पिछले छह सालों से 208 बोतल शराब लेकर घुम रहे हैं। पुलिस अधिकारी इंस्पेक्टर से डीएसपी बन गये,अब कुछ महीनों में रिटायर भी होंगे लेकिन थाने में जब्त 208 बोतल शराब का प्रभार अब तक नहीं दे सके हैं। डीएसपी साहब का बिना प्रभार दिये ही प्रमोशन हो गया,नो ड्यूज मिल गया और वेतन भी टनाटन निकल रहा है। छह साल बाद भी डीएसपी साहब थाने में जब्त 208 बोतल देशी-विदेशी शराब और 3600 रू का प्रभार नहीं दिया है। मामला नालंदा के सोहसराय थाना के तत्कालीन थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर से जुड़ा है।

थानाध्यक्ष ने एसडीपीओ को लिखा पत्र

सोहसराय थाना के थानाध्यक्ष ने 8 मई 2021 को पूर्वीचंपारण के अरेराज अनुमंडल के एसडीपीओ ज्योति प्रकाश को पत्र लिखा है. पत्र में कहा है कि सोहसराय थाना मालखाना का प्रभाव अब तक नहीं सौंपा गया है. पत्र में उल्लेख है कि आप 19 अप्रैल 2015 से 30 नवंबर 2015 तक सोहसराय थाना में पुलिस निरीक्षक सह थाना अध्यक्ष के पद पर पदस्थापित रहे हैं. आपके पास सोहसराय थाना में माल खाना का प्रदर्श प्रभार हेतु लंबित है. जिसका विवरण इस प्रकार है.....।

2015 से अब तक शराब का प्रभार नहीं दिये हैं SDPO ज्योति प्रकाश

पत्र में कांड संख्या और जब्त शराब का उल्लेख किया गया है।  200ml का 62 देसी शराब की बोतल, 400ml का एक देसी शराब का बोतल एवं 200ml का 39 देसी शराब की बोतल, 200ml का 50 देसी शराब की बोतल, 200ml का 30 देसी शराब का बोतल, 600 ml का 27 किंगफिशर बियर. इसके अलावे 3600 रू का नोट एवं ताश की गड्डी। थानाध्यक्ष ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि इसके अलावे अन्य कोई प्रदर्श प्रभार हेतु लंबित हो तो अति शीघ्र सौंपने की कृपा करें.

अब अगले महीने होंगे रिटायर 

जानकार बताते हैं कि जब तक थाना के मालखना का प्रभार थानेदार नही देते है तबतक उनको दूसरे जिला में वेतन नही मिलता है । लेकिन साहब की पकड़ इतनी उंची थी कि बिना मालखाना का प्रभार दिए ही नो ड्यूज मिल गया और अब डीएसपी बनकर हर महीने वेतन उठाते रहे हैं। जानकारी के अनुसार अब वे अगले महीने ही रिटायर होने वाले हैं।


Find Us on Facebook

Trending News