आयुर्वेदिक चिकित्सकों को सर्जरी की अनुमति मिलने से नाराज डॉक्टर 11 और 12 दिसंबर को करेंगे आंदोलन

आयुर्वेदिक चिकित्सकों को सर्जरी की अनुमति मिलने से नाराज डॉक्टर 11 और 12 दिसंबर को करेंगे आंदोलन

डेस्क... अब किसान के बाद केंद्र सरकार की नीतियों से खफा होकर डॉक्टर भी नाराज हो गए हैं। केंद्र सरकार से दो-दो हाथ करने के मूड में डॉक्टरों ने 11 और 12 दिसंबर को आंदोलन करने  के मूड में आ गए हैं। केंद्र सरकार की ओर से आयुर्वेदिक डॉक्टरों को सर्जरी करने की अनुमति देने से देश भर के डाॅक्टर आक्रोशित हैं। केंद्रीय आइएमए की अपील पर राज्य भर के डाॅक्टर हड़ताल पर रहेंगे। वहीं, 8 दिसंबर को दो घंटे विरोध प्रदर्शन करेंगे। यह जानकारी आइएमए बिहार ने शनिवार को दी। 

आइएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डाॅ सहजानंद प्रसाद सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने आयुर्वेदिक डॉक्टरों को भी सर्जरी करने की अनुमति दे दी है, जो गलत है। सरकार अगर अपने इस फैसले को वापस नहीं लेती है तो आइएमए बिहार अपने सहयोगी एमएसएन, जेडीएन के साथ मिलकर राज्यव्यापी आंदोलन करने को बाध्य होगा। इस दौरान जनता को होने वाली परेशानियों के लिए सरकार जिम्मेदार होगी। 


कहा गया कि आइएमए बिहार के सदस्य केंद्रीय आइएमए के निर्देशों के अनुसार प्रदर्शन के दौरान  लेबर रूम, आइसीयू, इमरजेंसी सेवा और कोविड मरीजों का इलाज चलता रहेगा। इसे इस हड़ताल से बाहर रखा गया है। वहीं, फुलवारीशरीफ के डाॅ अभिषेक के नवनीत हाॅस्पिटल में हुई मारपीट की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की गई। 

.

Find Us on Facebook

Trending News